कम्युनिस्टों से खफा-खफा बापू !    कोजी कोजी ठंड !    उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल !    डाकिया थनप्पा खुशी बांचता गम छिपाता !    मैं हूं मीरा !    स्ट्रीट फूड बनारस का !    भारतीय जवान को पाक ने साढ़े 3 माह बाद छोड़ा !    लिव-इन-रिलेशनशिप में दिक्कत नहीं !    खबर है कि !    हल्दी का सीन करते नम हुई आंखें !    

रोहतक पीजीआई के कार्यकारी कुलपति ने किया विभागों का औचक निरीक्षण

Posted On September - 28 - 2012

रोहतक, 28 सितंबर (हप्र)। पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के कार्यकारी कुलपति डॉ. एसएन चुघ ने शुक्रवार सुबह संस्थान के कई विभागों का औचक निरीक्षण किया और कर्मचारियों को मेहनत और लगन के साथ कार्य करने की सलाह देते हुए सभी ब्रांचों के हाजिरी रजिस्ट्रार चैक किए व अनुपस्थित पाए कर्मचारियों की गैर हाजिरी लगाई। उन्होंने कहा कि वे समय-समय पर औचक निरीक्षण करते रहेंगे और अनुपस्थित पाए गए कर्मचारियों का एक दिन का वेतन काटा जाएगा व अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। डॉ. एसएन चुघ ने जहां बृहस्पतिवार को चिकित्सा अधीक्षक कार्यालय का औचक निरीक्षण कर अनुपस्थित पाए गए कर्मचारियों की गैरहाजिरी लगाई थी, वहीं उन्होंने शुक्रवार सुबह काफी बड़े स्तर पर औचक निरीक्षण अभियान छेड़ा। उन्होंने सुबह मालियों की हाजिरी चैक करते हुए कुलपति कार्यालय के विभागों का औचक निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने नर्सिंग कालेज में निरीक्षण कर वहां का हाजिरी रजिस्टर चैक किया।
इसके बाद डॉ. एस.एन. चुघ ने निदेशक कार्यालय की सभी ब्रांचों में जाकर वहां कर्मचारियों को हमेशा ड्यूटी टाइम पर आने व ड्यूटी टाइम पर अपनी सीट पर बैठने की सलाह दी। इसके बाद कार्यकारी कुलपति डॉ. एस.एन. चुघ ने परिसर का दौरा किया जहां उन्होंने पाया कि कई स्थानों पर लंबी-लंबी घास उगी हुई है, जिसमें तरह-तरह के जीव-जंतु पनप सकते हैं जो किसी के लिए भी खतरा साबित हो सकते हैं। उन्होंने खुद वहां खड़े होकर वहां सफाई करवाई और मालियों ने उन्हें विश्वास दिलाया कि एक सप्ताह में परिसर में उगी फालतू की घास को साफ कर दिया जाएगा।


Comments Off on रोहतक पीजीआई के कार्यकारी कुलपति ने किया विभागों का औचक निरीक्षण
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.