कम्युनिस्टों से खफा-खफा बापू !    कोजी कोजी ठंड !    उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल !    डाकिया थनप्पा खुशी बांचता गम छिपाता !    मैं हूं मीरा !    स्ट्रीट फूड बनारस का !    भारतीय जवान को पाक ने साढ़े 3 माह बाद छोड़ा !    लिव-इन-रिलेशनशिप में दिक्कत नहीं !    खबर है कि !    हल्दी का सीन करते नम हुई आंखें !    

स्वास्थ्य कर्मियों ने घेरा निदेशक कार्यालय

Posted On April - 23 - 2013

हमारे प्रतिनिधि
चंडीगढ़, 23 अप्रैल। बहुउद्देश्यीय स्वास्थ्य कर्मचारी एसोसिएशन, हरियाणा के बैनर तले आज प्रदेशभर के स्वास्थ्य कर्मियों ने पंचकूला स्थित राष्टरीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) के मिशन निदेशक कार्यालय का घेराव किया। स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं पर जहां सरकार पर उनकी मांगों की अनदेखी करने का आरोप लगाया वहीं मिशन निदेशक पर तानाशाहीपूर्ण रवैया अपनाने के आरोप जड़े। एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप सरकार को नौ जून तक का अल्टीमेटम देते हुए दस जून से स्वास्थ्य मंत्री राव नरेंद्र ङ्क्षसह के आवास के बाहर अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन शुरू करने का ऐलान किया है।
पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज सुबह से ही प्रदेशभर से स्वास्थ्य कर्मचारी मिशन निदेशक कार्यालय के बाहर जुटना शुरू हो गए थे। कर्मचारियों ने कार्यालय का घेराव करने हुए निदेशक व सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। धरने व प्रदर्शन के बाद एसोसिएशन ने मिशन निदेशक को ज्ञापन सौंपा और इसके बाद वे प्रदर्शन करते हुए सेक्टर-6 स्थित हरियाणा स्वास्थ्य सेवाएं के महानिदेशक कार्यालय पहुंचे और महानिदेशक को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कर्मचारियों ने मिशन निदेशक की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए तानाशाहीपूर्ण तरीके से लिए गए फैसलों को वापस करवाने की मांग भी की है।
ज्ञापन में कहा गया है कि उप-स्वास्थ्य केंद्रों में बिजली, पानी व दवाओं का प्रबंध नहीं है। उन्होंने मांग की है कि पिछले करीब पंद्रह वर्षों से नाममात्र वेतन पर विभिन्न परियोजनाओं में कार्यरत कर्मचारियों को नियमित किया जाए और जब तक वे नियमित नहीं होते उन्हें दिल्ली सरकार की तरह समान काम समान वेतन का लाभ दिया जाए। कर्मचारियों को एलटीसी लाभ देने, एमपीएचडब्ल्यू तथा एमपीएचएस महिला व पुरुष की वेतन विसंगितयों को दूर कर पंजाब के समान भत्ते दने तथा महिला एमपीएचडब्ल्यू की पदोन्नति सूची जारी करने व एमपीएचडब्ल्यू के डिप्लोमा की अवधि दो वर्ष व शैक्षणिक योग्यता दस जमा दो करने की मांग उठाई गई है।
एसोसिएशन की प्रदेशाध्यक्ष आशा शर्मा ने सरकार को चेतावनी देते हुए घोषणा की कि यदि जल्दी ही ज्ञापन में दर्शाई गई मांगों पर अमल नहीं किया गया तो प्रदेश के स्वास्थ्य कर्मचारी अपने आंंदोलन को तेज करेंगे। सरकार को दस जून तक का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अगर इससे पूर्व उनकी मांगों को माना नहीं गया तो स्वास्थ्य कर्मचारी दस जून से अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन शुरू करेंगे।


Comments Off on स्वास्थ्य कर्मियों ने घेरा निदेशक कार्यालय
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.