जगीर कौर की सजा पर रोक से हाईकोर्ट का इनकार !    मैं जन्मजात कांग्रेसी, घर वापसी हुई !    सुबह कोहरे की चादर, दिन में बादलों की ओढ़नी !    8 महीने से होमगार्डों को नहीं मिला वेतन !    व्हाट्सएप, फेसबुक को नोटिस !    मीटर जांच कर रही टीम की लाठी-डंडों से धुनाई !    रोहतक में माकपा का प्रदर्शन, रोष सभा भी की !    सिलिकोसिस पीड़ितों का होगा मुफ्त इलाज !    सड़कों पर गूंजा नोटबंदी का विरोध !    अफसर के िवरोध में उतरे चेयरपर्सन, पार्षद !    

केंद्र ने महंगाई रोकने के लिए कुछ नहीं किया : भाकपा

Posted On November - 23 - 2013

लुधियाना, 23 नवम्बर (निस)। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के गुरुदास दास गुप्ता ने कहा है कि देश को ऐसी नीतियां चाहिए जो देश को संकट से उभार सकें। वे आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने महंगाई के लिए केंद्रीय सरकार की आर्थिक नीतियों को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह, वित्तमंत्री पी. चिदम्बरम और योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष पर आधारित तिकड़ी देश को बर्बादी की ओर लेकर जा रही है। वह आज यहां राष्ट्रीय श्रम संगठनों द्वारा 12 दिसम्बर को अपनी मांगों के समर्थन में जनमत तैयार करने के लिए आये हुए थे। कामरेड गुरुदास दास गुप्ता ने इस हेतु यहां पंजाबी भवन में आयोजित विभिन्न श्रम संगठनों के प्रतिनिधियों व नेताओं की एक बैठक को भी संबोधित किया।
संवाददाताओं से बातचीत के दौरान वामपंथी श्रम संगठन एटक के महामंत्री कामरेड गुरुदास दास गुप्ता ने कहा कि केंद्रीय सरकार ने महंगाई रोकने के लिए कोई भी प्रयास नहीं किया। प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह ने भारतीय श्रम सम्मेलन को संबोधित करते हुए आश्वासन दिया था कि सरकार महंगाई के प्रति संवेदनशील है, एक कैबिनट स्तर की कमेटी श्री एंटनी के नेतृत्व में गठित भी हुई थी, लेकिन महंगाई पर अंकुश लगाने के लिए कुछ नहीं किया। उनका कहना है कि वामपंथी दल खाद्य सुरक्षा कानून के कट्टर समर्थक हैं, लेकिन इससे कुछ बनने वाला नहीं है। कामरेड ने कहा, ‘यह केवल दिखावा है।’
तीसरे मोर्चे के गठन संबंधी पूछे गये प्रश्न के उत्तर में भाकपा के नेता ने कहा कि किसी मोर्चे की नहीं नीतियों की बात कीजिये। जब उनसे केंद्रीय मंत्री श्री कपिल सिब्बल के इस कथन की ओर ध्यान आकर्षित करवाया गया कि देश में महंगाई बढऩे का कारण है गरीब।
वे दाल और सब्जी के साथ भोजन करने लगे हैं, तो उन्होंने कहा, ‘भुने हुए मुर्गों और सैंडविच खाने वालों को क्या मालूम कि गरीबी क्या होती है। उन्होंने कहा कि गुंडों और अपराधियों के अदालत में मामले लड़कर भारी फीस वसूलने वालों को गरीबों का मजाक नहीं उड़ाना चाहिए।’


Comments Off on केंद्र ने महंगाई रोकने के लिए कुछ नहीं किया : भाकपा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.