जगीर कौर की सजा पर रोक से हाईकोर्ट का इनकार !    मैं जन्मजात कांग्रेसी, घर वापसी हुई !    सुबह कोहरे की चादर, दिन में बादलों की ओढ़नी !    8 महीने से होमगार्डों को नहीं मिला वेतन !    व्हाट्सएप, फेसबुक को नोटिस !    मीटर जांच कर रही टीम की लाठी-डंडों से धुनाई !    रोहतक में माकपा का प्रदर्शन, रोष सभा भी की !    सिलिकोसिस पीड़ितों का होगा मुफ्त इलाज !    सड़कों पर गूंजा नोटबंदी का विरोध !    अफसर के िवरोध में उतरे चेयरपर्सन, पार्षद !    

दुष्कर्म के केसों में पीडि़ता को शीघ्र न्याय मिलेगा

Posted On November - 23 - 2013

पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के न्यायाधीश जतिंद्र चौहान बठिंडा के अदालती कांप्लेक्स में दीप प्रज्वलित कर नेशनल लोक अदालत का उद्घाटन करते हुए।

बठिंडा, 23 नवंबर (निस)। दिन-ब-दिन बढ़ रहे अदालती केसों को देखते हुये पंजाब में न्यायपालिका ने अधिकारियों की संख्या 60-70 बढ़ाई है परन्तु केसों की संख्या को देखते हुये इनकी संख्या और बढ़ाने की जरूरत है । यह बात आज यहां पत्रकारों के प्रश्रों का उत्तर देते हुये पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के न्यायधीश जतिन्द्र चौहान ने कही। इससे पहले उन्होंने यहां नेशनल लोक अदालत का उद्घाटन किया। इस अवसर पर जिला व सत्र न्यायधीश तेजविंदर सिंह, जिलाधीश बठिंडा के के यादव, एसएसपी गुरप्रीत सिंह भुल्लर व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
दुष्कर्म के बढ़ रहे मामलों को शीघ्र निपटाने बारे उन्होंने कहाकि अब पीडि़ता को न्याय पाने के लिये वर्षों अदालतों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे तथा उसे 6-7 सप्ताह में ही न्याय मिल जायेगा। पंचायतों में फैसले न होने के कारण अदालतों में बढ़ रहे केसों बारे न्यायधीश जतिन्द्र चौहान ने कहाकि पहले अधिकतर फैसले पंचायत स्तर तक हो जाने के कारण कोर्टों में बहुत कम केस आते थे परन्तु अब घरेलू विवादों के केस ही दिन-ब-दिन बढ़ रहे हैं।
उन्होंने बताया कि आज जिला बठिंडा की अदालत में 19 बैंच स्थापित किये गये हैं जबकि जिले की रामपुरा फूल अदालत में दो व तलबंडी साबो में दो बैंच स्थापित किये गये हैं।


Comments Off on दुष्कर्म के केसों में पीडि़ता को शीघ्र न्याय मिलेगा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.