शादी समारोह से बच्चे ने चुराया 3 लाख का बैग !    फर्जी अंगूठा लगाकर मनरेगा के खाते से उड़ाये लाखों !    गुरु की तस्वीरों पर प्रकाश अाभा न दिखाने पर एतराज !    हरियाणा में 2006 के बाद के कर्मियों को भी ग्रेच्युटी !    पहले दिया समर्थन, अब झाड़ा पल्ला !    सप्ताह भर में न भरा टैक्स तो टावर होंगे सील !    पेंशन की दरकार, एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन !    परियोजना वर्करों की देशव्यापी हड़ताल कल !    आईएस का हाथ था कानपुर रेल हादसे में !    आज फिर चल पड़ेगी नेताजी की कार !    

सबसे बड़ी खलनायक भी बनी थी ‘डीडीएलजे’ की सिमरन

Posted On August - 4 - 2014

बॉलीवुड में काजोल का नाम उन चंद अभिनेत्रियों में लिया जाता है, जिन्होंने अभिनेत्रियों को सिल्वर स्क्रीन पर महज शोपीस के तौर पर इस्तेमाल किये जाने जाने की विचारधारा को बदल कर उन्हें सशक्त पहचान दिलायी। 5 अगस्त 1974 को मुंबई में जन्मी काजोल को अभिनय की कला विरासत में मिली। उनके पिता सोमु मुखर्जी निर्माता जबकि मां तनुजा जानी मानी फिल्म अभिनेत्री हैं। बजपन से ही उनका भी रुझान फिल्मों की ओर था। काजोल ने प्रारंभिक शिक्षा संत जोसेफ कान्वेंट पंचगनी से की। उन्हें एक वर्ष में तीन फिल्मों के लिये फिल्म फेयर पुरस्कारों के लिये नामांकित होना का गौरव प्राप्त है। उन्होंने बतौर अभिनेत्री सिने करियर की शुरुआत वर्ष 1992 में प्रदॢशत फिल्म ‘बेखुदी’ से की। वर्ष 1993 में अब्बास-मस्तान की फिल्म बाजीगर में काजोल ने दमदार अभिनय से दर्शकों का दिल जीत लिया। इसके बाद उधार की ङ्क्षजदगी, ये दिल्लगी, करण अर्जुन प्रदर्शित हुयी। वर्ष 1995 में यश चोपड़ा की फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनियां ले जायेंगे’ में उनके करियर के लिये मील का पत्थर साबित हुयी। वर्ष 1997 में फिल्म ‘गुप्त’ के लिये वह सर्वश्रेष्ठ खलनायक के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित की गयी। फिल्म उद्योग के इतिहास का पहला मौका था जब किसी अभिनेत्री को सर्वश्रेष्ठ खलनायक का फिल्म फेयर पुरस्कार दिया गया था। वर्ष 1998 में फिल्म दुश्मन के लिये वह सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार के लिये नामांकित की गयी। इसके बाद ‘प्यार तो होना ही था’, ‘कुछ कुछ होता है’ ‘हम आपके दिल में ‘कभी खुशी कभी गम’, फना में दमदार अभिनय किया।


Comments Off on सबसे बड़ी खलनायक भी बनी थी ‘डीडीएलजे’ की सिमरन
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.