शादी समारोह से बच्चे ने चुराया 3 लाख का बैग !    फर्जी अंगूठा लगाकर मनरेगा के खाते से उड़ाये लाखों !    गुरु की तस्वीरों पर प्रकाश अाभा न दिखाने पर एतराज !    हरियाणा में 2006 के बाद के कर्मियों को भी ग्रेच्युटी !    पहले दिया समर्थन, अब झाड़ा पल्ला !    सप्ताह भर में न भरा टैक्स तो टावर होंगे सील !    पेंशन की दरकार, एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन !    परियोजना वर्करों की देशव्यापी हड़ताल कल !    आईएस का हाथ था कानपुर रेल हादसे में !    आज फिर चल पड़ेगी नेताजी की कार !    

आने वाला कल

Posted On December - 1 - 2016

नोट बंदी: सरकार ने फैसले से पहले पुरजोर तैयारी कर लेनी चाहिए थी

जितेश बंसल

जितेश बंसल

नोटबंदी के जरिये देश के इतिहास में पहली बार एक सरकार ने ऐसा ठोस कदम उठाया है, जिसने उथल-पुथल मचा दी है। इसके परिणाम संभव है बाद में दिखेंगे लेकिन इस समय लोगों को जो परेशानी हो रही है, वह चिंता की बात हो चुकी है।
नारनौल के निवासी जितेश बंसल नोटबंदी के बाद के हालात पर विचार कर रहे हैं। सरकार के खजाने में भरपूर पैसा जमा हो रहा है। उनके मुताबिक बैंकों में जमा पैसा देश के विकास कार्यों में लगाया जा सकेगा। यदि लेन-देन व्यवहारों को नकद रहित किया जाए तो कालाधन की समस्या भी नहीं रहेगी। इसलिए भविष्य में देश की स्थिति को मजबूत करने के लिए कैसलेस इकोनॉमी का निर्माण करना अत्यंत आवश्यक है, जिसका अधिकांश भार देश के युवाओं पर है।
लोग राष्ट्रहित के इस फैसले को समझ रहे हैं और इसमें शांतिपूर्वक तरीके से अपना योगदान दे रहे हैं। हालांकि कई जगह हिंसक घटनाएं भी घट रही हैं, वहीं शादी-ब्याह के घरों में पैसे की किल्लत से दुखद समाचार भी सुनने और पढ़ने को मिल रहे हैं। हालांकि सरकार को इसके लिए पुरजोर तैयारी करनी चाहिए थी। उथल-पुथल को देखकर लगता है कि सरकार ने निर्णय तो ले लिया, लेकिन उसे अंदाजा नहीं था कि यह फैसला समस्या पैदा कर देगा। आखिर अपने खाते से ही पैसे निकालने से रोकना कहां तक उचित है? सरकार को रुपये निकालने की सीमा बढ़ानी चाहिए। बैंकों में नियमित नकदी आपूर्ति की जानी चाहिए और काले धन को सफेद करने वालों की कड़ी निगरानी होनी चाहिए।
* विजय कौशिक, नारनौल


Comments Off on आने वाला कल
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.