करदाताओं को धमकी न दें : सीबीडीटी !    भूमि अधिग्रहण के बाद मुआवजा अपील निरर्थक !    माल्या को लाने की कोशिशें तेज हुईं !    रिलायंस जियो का अब 3 नॉट 3 ऑफर !    ऋतिक का किस्सा अब खत्म : कंगना !    रसोइया नहीं जनाब इन्हें शेफ कहिये !    इलाहाबाद में राहुल-अखिलेश के लिए तैयार मंच गिरा !    93 के मुगाबे बोले, अगले साल भी लड़ूंगा चुनाव !    जंगली जानवर के हमले से गांवों में दहशत !    नूंह में दीवार तोड़ महिलाओं ने कर लिया दुकान पर कब्जा !    

आप में भी सियासी परिवार

Posted On December - 23 - 2016

अभी केजरीवाल ही चेहरा

kej copyआम आदमी पार्टी ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है। पंजाब में अब तक किसी स्थानीय चेहरे को मुख्यमंत्री के रूप में पेश नहीं किया है। अभी तो अरविंद केजरीवाल ही पार्टी के चेहरा बने हुए हैं। दिल्ली चुनाव की ही रणनीति अपनाते हुए केजरीवाल ने जिस तरह तीन बार की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ ताल ठोंकी थी, पंजाब में भी सुखबीर सिंह बादल के खिलाफ जलालाबाद से अपने सबसे लोकप्रिय नेता भगवंत मान को मैदान में उतार दिया है। आप के उम्मीदवारों में परिवारवाद तो नहीं है, लेकिन कांग्रेस और अकाली दल से आये ऐसे उम्मीदवार हैं, जो सियासी परिवारों से जुड़े हैं।
आप उम्मीदवारों में प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ लंबी से दिल्ली से विधायक जरनैल सिंह को उतारने की तैयारी है। इसका औपचारिक ऐलान 28 दिसंबर की रैली में किया जाना है। बिक्रम मजीठिया के खिलाफ भी पार्टी के कानूनी सैल के कन्वीनर हिम्मत सिंह शेरगिल को मजीठा से चुनाव मैदान में उतारा है। इसके इलावा नशे को बड़ा मुद्दा बनाते हुए केजरीवाल कई बर एेलान कर चुके हैं कि बिक्रम मजीठिया नशा तस्करी में शामिल हैं और सरकार आते ही उनको जेल भेजा जाएगा। मजीठिया ने इस आरोप के कारण केजरीवाल और पार्टी के पंजाब मामलों के इंचार्ज संजय सिंह समेत कइयों के खिलाफ मानहानि का केस कर रखा है। केजरीवाल ने तीन महीने में नशा बंद करने, किसानों का कर्ज माफ करने का एेलान किया है। देश में सबसे ज्यादा दलित आबादी वाला राज्य होने के कारण केजरीवाल ने दलितों को लुभाने के लिए दलित को उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा की है। आम आदमी पार्टी फिलहाल असमंजस में दिखाई देती है। पार्टी के संयोजक गुरप्रीत सिंह वड़ैच कह चुके हैं कि पार्टी किसी को भी मु्ख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित नहीं करेगी। आम आदमी पार्टी पंजाब में यदि मुख्यमंत्री पद के लिए प्रत्याशी का नाम नहीं घोषित कर  रही तो यह सियासी गणित का नतीजा है। दिल्ली में पार्टी ने केजरीवाल को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाकर चुनाव लड़े थे। हरियाणा में भी पार्टी के चेहरे को लेकर काफी उठापटक चली। पार्टी में जयहिंद और योगेंद्र यादव दो गुट बन गये थे। हालांकि बाद में योगेंद्र यादव को आम आदमी पार्टी से बाहर कर दिया गया था।

पुराने अकाली व कांग्रेसी भी
12312CD _SUKHPAL_S_KHAIRAपूर्व विधायक सुखपाल सिंह खहरा कांग्रेस में थे, वे अब भुल्लथ से आप के प्रत्याशी हैं। वे अकाली दल सरकार में मंत्री रहे जत्थेदार सुखजिंदर सिंह के बेटे हैं। कांग्रेस विधायक रहे भगवान दास अरोड़ा के बेटे अमन अरोड़ा सुनाम से आप के प्रत्याशी हैं। जत्थेदार गुरचरन टौहड़ा की बेटी सनौर से आप की प्रत्याशी हैं। पिछली बार वे अकाली दल की उम्मीदवार थीं। अकाली दल के पूर्व विधायक, बाद में कांग्रेस में चले गए जगतार सिंह राजला भी इस चुनाव में समाना से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी हैं। अकाली दल के वरिष्ठ नेता कैप्टन कंवलजीत की पत्नी सरबजीत कौर डेराबस्सी से आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी बनाई गई हैं।


Comments Off on आप में भी सियासी परिवार
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.