प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री सार्वजनिक करने पर रोक !    ट्रंप ने टीपीपी संधि खत्म करने का दिया आदेश !    वार्नर को फिर आस्ट्रेलिया क्रिकेट का शीर्ष पुरस्कार !    सेरेना, नडाल का विजय अभियान जारी !    अभय ने लिखा मोदी को पत्र, मुलाकात का समय मांगा !    चुनाव से पहले सीएम उम्मीदवार घोषित होंगे कैप्टन : अानंद शर्मा !    युवती को अगवा कर होटल में किया रेप !    सुप्रीमकोर्ट ने सीएजी को दिये पुष्टि के निर्देश !    मॉरीशस में प्रधानमंत्री ने बेटे को सौंपी सत्ता !    ट्रेन हादसे की जांच को पहुंची एनआईए !    

जोड़ों को क्यों सताये सर्दी

Posted On December - 28 - 2016

डाॅ. हरीश मनसुखानी,
विभागाध्यक्ष, आर्थोपेडिक
एलबीएस अस्पताल
12812cd _fingerसर्दी का मौमस भले ही सेहत के लिए अच्छा माना जाता है, लेकिन हड्डियों के रोग से पीड़ित लोगों के लिए यह मौमस दुखदायी होता है। सर्दी और तेज ठंडी हवाओं वाले दिनों में हड्डियों के रोगियों को एक-एक दिन काटना मुश्किल हाे जाता है। हड्डियों की पुरानी चोट भी उभर आती है। दरअसल कम तापमान में हमारी नर्व्स ज्यादा संवेदनशील हो जाती हैं। इससे दर्द ज्यादा महसूस होता है। इसके अलावा ठंड के कारण शरीर में खून का दौरा प्रभावित होता है। जोड़ों तक रक्त संचार कम होने से उनमें अकड़न और दर्द बढ़ता है। अन्य वजह यह भी है कि सर्दियाें के दिनों में एक्सरसाइज और यहां तक कि चलना कम हो जाता है।
इससे मांसपेशियां शिथिल पड़ने लगती हैं।
एक्सरसाइज न छोड़ें, आहार पर दें ध्यान

  • हड्डियों व जोड़ों में दर्द होने पर गर्म पानी से सिकाई करें।
  • यह भ्रांति है कि अधिक भागदौड़ करने के बाद एक्सरसाइज करने की जरूरत नहीं पड़ती। यह गलत है। एक्सरसाइज जरूरी है। बस ध्यान रखें कि दर्द होने पर आगे झुककर एक्सरसाइज न करें।
  • भारी वजन नहीं उठाना चाहिए।
  • बिस्तर से सीधे उठने के बजाय करवट लेकर उठें। लेटते वक्त भी ऐसा ही करें।
  • फैट वाला खाना नहीं खाना चाहिए। दूध से बने उत्पादों का सेवन अधिक करना चाहिए। कुछ देर धूप में भी गुजारें।

प्रस्तुति : रिचा पाण्डेय


Comments Off on जोड़ों को क्यों सताये सर्दी
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.