प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री सार्वजनिक करने पर रोक !    ट्रंप ने टीपीपी संधि खत्म करने का दिया आदेश !    वार्नर को फिर आस्ट्रेलिया क्रिकेट का शीर्ष पुरस्कार !    सेरेना, नडाल का विजय अभियान जारी !    अभय ने लिखा मोदी को पत्र, मुलाकात का समय मांगा !    चुनाव से पहले सीएम उम्मीदवार घोषित होंगे कैप्टन : अानंद शर्मा !    युवती को अगवा कर होटल में किया रेप !    सुप्रीमकोर्ट ने सीएजी को दिये पुष्टि के निर्देश !    मॉरीशस में प्रधानमंत्री ने बेटे को सौंपी सत्ता !    ट्रेन हादसे की जांच को पहुंची एनआईए !    

देसी घी में भीगी बाजरे की रोटी खाने का मजा ही कुछ और था

Posted On December - 8 - 2016
रामदिता अरोड़ा

रामदिता अरोड़ा

अच्छा स्वास्थ्य अच्छे खानपान से कायम रखा जा सकता है। गर्मी हो चाहे सर्दी आप अगर अपने खानपान का ध्यान रखकर चलोगे तो कभी बीमार नहीं पड़ोगे। भारत और पाकिस्तान बंटवारे को अपनी आंखों से देख चुके 85 वर्षीय सिवानी मंडी निवासी रामदिता अरोड़ा जब यह कहते हैं तो उनकी बात में दम नजर आता है। उम्र के इतने पड़ाव पार कर चुके अरोड़ा कहते हैं, एक समय था जब लोग खूब शारीरिक श्रम करते थे, इसका फायदा यह होता था कि वे हमेशा स्वस्थ रहते थे।
सर्दियाें में हर घर में कुछ खास व्यंजन बनाए जाते हैं, जोकि बच्चों,बड़ों और अन्य लोगों के काम आते हैं। अरोड़ा बताते हैं कि चाहे उनका समय रहा हो या फिर आज का दौर, रसोई में काम आने वाले मसालों और घी-तेल का इस्तेमाल करके ऐसी चीजें बनाई जाती हैं, जोकि ठंड में खूब काम आती हैं। अरोड़ा के मुताबिक उस वक्त गुड़ लगभग हर घर में मिलता था और इसका इस्तेमाल तिल के साथ इस्तेमाल करके लड्डू बनाए जाते थे, जोकि पूरी सर्दियां काम आते थे।
तब तिलों की पिन्नी बनती थी। तिलों का तेल निकाल कर उसमें आटे के साथ सौंफ मिलाकर मालपुए बनाए जाते थे। इसके अलावा बाजरा, मक्की खूब मिलती थी, जिससे बनी रोटियों पर देशी घी डालकर सरसों के साग के साथ तर करके खाई जाती थी। साथ में लस्सी का गिलास स्वाद को लाजवाब बना देता। गुड़ व काली मिर्च को चकले पर रखकर बेलन से रगड़ कर पेड़ा बनाकर खिलाने से भी खांसी से राहत मिल जाती। अरोड़ा के अनुसार समय चाहे कोई भी रहे लेकिन थोड़ी सी सावधानी रखकर हम फायदे में रह सकते हैं।
 अशोक अरोड़ा, सिवानीमंडी


Comments Off on देसी घी में भीगी बाजरे की रोटी खाने का मजा ही कुछ और था
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.