कार खाई में गिरने से 3 की मौत !    डीजे पर झगड़ा, दूल्हे के भाई की मौत !    तेजाब हमला नाबालिग बेटियों समेत पिता घायल !    गंभीर आरोप, नहीं मिलेगी जमानत !    प्रशिक्षकों को देंगे 15 लाख का इनाम !    पानीपत में आज फिर होगी बात !    अब भाजपा को रोशन करेंगे 'रवि' !    शराब के लिए पैसे नहीं दिए तो मां को मार डाला !    ‘आवेदन मांगे पर नहीं किए हिंदी शिक्षकों के तबादले’ !    नितिन बने चैंपियन !    

अब रूस की कंपनियां सीधे देंगी सैन्य सामग्री

Posted On January - 11 - 2017

अजय बनर्जी/ट्रिन्यू
नयी दिल्ली, 11 जनवरी
11101cd _sukhoi_su_30_mki_5एक बड़े घटनाक्रम में रूस ने अपने सैन्य साज-ओ-सामान बनाने वालों को अपने उत्पाद सीधे भारत को बेचने की इजाजत दे दी है। असल में भारतीय सेना के तीनों अंगों में करीब 70 फीसदी सैन्य सामग्री रूस में बनी होती हैं। मॉस्को अब भी लगातार सबसे बड़ा सैन्य सामग्री भारत को भेजने का केंद्र है। असल में कुछ सामान की रिपेयरमेंट के लिए लंबी प्रक्रिया का पालन करना पड़ता है। अब नये फैसले के बाद रूस अपनी सेवाओं में सुधार करेगा। यही नहीं वह फाइटर जेट सुखोई 30 एमकेआई, मिग-17 हेलीकॉप्टर और टी-90 टैंक के मेंटीनेंस में भी सहयोग करेगा। रूस के रक्षा मंत्री ने अपने फैसले के बारे में अपने भारतीय समकक्ष को इस संबंध में सूचना दी है। रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ सूत्रों ने बताया कि रूस ने सूचना दी है कि ‘मूल रूप से सैन्य सामान बनाने वाली कंपनियों को यह अधिकार दिया गया है कि वे हर खरीद पर बिना अनुमति के जरूरी पार्ट्स भारत को सीधे दे दें।’
पुतिन-मोदी में हुई थी बात: असल में इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच गोवा में शिखर सम्मेलन के दौरान बातचीत हुई थी। एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि सैन्य सामान के मुख्य पार्ट ज्यादातर रूस से या फिर यूक्रेन से आते हैं।


Comments Off on अब रूस की कंपनियां सीधे देंगी सैन्य सामग्री
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.