असल जिंदगी का रूप है सिनेमा : अख्तर !    नहीं रहे प्रसिद्ध उर्दू गीतकार लायलपुरी !    पूर्व सीबीआई प्रमुख की रिपोर्ट पर फैसला आज !    अकाली दल के कई नेता कांग्रेस में शामिल !    2 गोल्ड जीतकर लौटी फरीदाबाद की बेटी !    जेसी कालेज की लड़कियों ने मारी बाजी !    भारत का प्रतिनिधित्व करेगा दिवेश !    तेरिया ने जीता 'झलक दिखला जा' का खिताब !    पाक में मामले की सुनवाई 25 को !    विशेष अतिथि होंगे 40 आदिवासी !    

उस पार क्या? बताएगी चिप

Posted On January - 1 - 2017

रोचक

कार्तिक तिवारी
PMB2540_GPS copyक्या हमारे जैसे या हमारे से अलग लोग किसी और ग्रह पर भी रहते हैं? जीवन की इस तरह की खोज वैज्ञानिकों के लिए हमेशा से कौतूहल का विषय रहा है। लेकिन अब माना जा रहा है कि इस दिशा में एक नयी सफलता मिली है। असल में कुछ वैज्ञानिकों ने एक ऐसा टेलीस्कोप चिप तैयार किया है, जिसकी मदद से अंतरिक्ष विज्ञानी उन बाहरी ग्रहों का पता लगा सकते हैं, जहां की परिस्थितियां जीवन के अनुकूल हो सकती हैं। यह चिप सूर्य और अन्य तारों से आने वाले अत्यधिक प्रकाश को हटाकर इन ग्रहों की स्पष्ट झलक पेश करता है। सौर मंडल के बाहर अपने नक्षत्र के पास मौजूद किसी ग्रह को सूर्य के प्रकाश के कारण आजकल के बड़े यंत्रों के जरिए देख पाना बेहद मुश्किल है। ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी के एसोसिएट प्रोफेसर स्टीव मैडेन ने कहा कि नया चिप मूल नक्षत्र से आने वाले प्रकाश को हटा देता है, जिससे अंतरिक्ष विज्ञानी पहली बार किसी ग्रह की स्पष्ट तस्वीर ले सकते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि अंतरिक्ष विज्ञानियों के साथ हमारे काम का उद्देश्य पृथ्वी जैसा कोई ऐसा ग्रह ढूंढना है, जो जीवन के लिए अनुकूल हो सकता है। ग्रह पर जीवन खोज संबंधी चिप बनाने वाले पीएचडी छात्र हैरी-डीन केनचिंग्टन गोल्डस्मिथ ने कहा कि प्रौद्योगिकी थर्मल इमेजिंग का इस्तेमाल करती है। यह वही तकनीक है, जिसपर दमकलकर्मी धुंए में देखने के लिए निर्भर करते हैं। यही प्रौद्योगिकी अन्य ग्रहों पर उस ओजोन का पता लगाने के लिए इस्तेमाल होगी, जो जीवन के लिए मददगार साबित हो सकती है। देखना होगा कि चिप कितना कारगर साबित होती है।

खाते-खाते पीयो पानी
03-thirsty-signs-drinking-too-much-water-Ridofranz copyचिकित्सा की अलग-अलग पद्धतियों में खान-पान के तौर-तरीके भी भिन्न हैं। एक पद्धति कहती है कि खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए। दूसरी पद्धति कहती है कि खाने से पहले पानी पी लें। एक पद्धति कहती है कि खाने के बीच-बीच में पानी पीते रहें। अंतिम तरीके को लेकर एक रोचक शोध भी सामने आया है। इस शोध के मुताबिक खाने के दौरान पानी पीते रहने से वजन कम हो सकता है। यह शोध कुछ-कुछ उस सलीके पर मोहर लगाता सा दिखता है जिसका जिक्र हमारे यहां बड़े-बुजुर्ग करते हैं। वह यह कि खाना खाने के लिए बैठने से पहले पानी लेकर बैठें। हालिया शोध का यह निष्कर्ष है कि अगर आप खाने के दौरान पानी पीते रहते हैं तो आपका दिमाग संकेत करता है कि बस अब खाना बंद करो। इससे आपके भोजन की मात्रा कम हो जाती है जो सीधे आपके वजन को कम करने में फायदेमंद होता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि ज्यादा पानी पीने से पेट भर जाता है, परिणामस्वरूप मस्तिष्क को यह संकेत जाता है कि यह भर चुका है, इसलिए अब खाने की जरूरत नहीं है। इसका मतलब है कि खाने के साथ ज्यादा मात्रा में पानी पीना ही वह वजह है, जो व्यक्ति के वजन को नियंत्रित करता है। हाल में एक साइंस पत्रिका में इस तरह का शोध निष्कर्ष प्रकाशित हुआ है। वैसे खाते-खाते पीना और पीते-पीते खाना हर किसी की शारीरिक प्रकृति पर भी निर्भर करता है। इसलिए शोध निष्कर्ष पर अमल करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले लें।


Comments Off on उस पार क्या? बताएगी चिप
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.