करदाताओं को धमकी न दें : सीबीडीटी !    भूमि अधिग्रहण के बाद मुआवजा अपील निरर्थक !    माल्या को लाने की कोशिशें तेज हुईं !    रिलायंस जियो का अब 3 नॉट 3 ऑफर !    ऋतिक का किस्सा अब खत्म : कंगना !    रसोइया नहीं जनाब इन्हें शेफ कहिये !    इलाहाबाद में राहुल-अखिलेश के लिए तैयार मंच गिरा !    93 के मुगाबे बोले, अगले साल भी लड़ूंगा चुनाव !    जंगली जानवर के हमले से गांवों में दहशत !    नूंह में दीवार तोड़ महिलाओं ने कर लिया दुकान पर कब्जा !    

कहीं अल्ज़ाइमर तो नहीं

Posted On January - 8 - 2017

Alzheimers copyक्या आपके घर में किसी बुजुर्ग का व्यवहार अचानक असामान्य सा हो रहा है। क्या उनकी गणना या पहचानने की क्षमता पर असर पड़ता दिख रहा है। यदि ऐसा है तो इसे सामान्य न मानें। हो सकता है कि यह अल्जाइमर के लक्षण हों। यह एक ऐसा रोग है जिसे शुरुआत में तो नियंत्रित किया जा सकता है, लेकिन अगर मर्ज बढ़ गया तो फिर कुछ नहीं हो पाएगा। हम यह तो सुनते ही हैं कि कुछ लोग, विशेषकर बुजुर्ग अपना सामान रखकर भूल जाते हैं। यही नहीं, वह लोगों के नाम, अपने घर का पता या नंबर, खाना, बैंक संबंधी काम, नित्य क्रिया, रेगुलर वर्क तक भूलने लगते हैं। न्यूरो साइंस में इसे अल्जाइमर कहा जाता है। अल्जाइमर एक ऐसी दिमागी बीमारी है, जिसमें मरीज की याददाशत और निर्णय लेने की शक्ति धीरे-धीरे कमजोर होती जाती है। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती रहती है, वैसे-वैसे यह बीमारी भी बढ़ती रहती है। विशेषज्ञ कहते हैं कि अल्जाइमर का कारण ठीक से पता नहीं चला है। कुछ मनोचिकित्सकों का मानना है कि हमारे ब्रेन के अंदर कुछ कोशिकाओं (सेल्स) की उम्र के साथ मृत्यु होने की वजह से ब्रेन में कुछ सिग्नल पहुंचने में गड़बड़ी होना ही अल्जाइमर है। विशेषज्ञ आगाह करते हैं कि बुजुर्गों की कुछ हरकतों में बदलाव दिख रहा हो तो उसे नजरअंदाज न करें। न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. पुनीत अग्रवाल के मुताबित यह बीमारी नज़र आने से पहले खामोशी से विकसित होती रहती है। कुछ शोधों में यह भी सामने आया है कि जो लोग स्मोकिंग करते हैं या जिनके शरीर में ब्लड प्रेशर या डायबिटीज है, उनमें इस रोग के विकसित होने की आशंका अधिक है।


Comments Off on कहीं अल्ज़ाइमर तो नहीं
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.