कम्युनिस्टों से खफा-खफा बापू !    कोजी कोजी ठंड !    उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल !    डाकिया थनप्पा खुशी बांचता गम छिपाता !    मैं हूं मीरा !    स्ट्रीट फूड बनारस का !    भारतीय जवान को पाक ने साढ़े 3 माह बाद छोड़ा !    लिव-इन-रिलेशनशिप में दिक्कत नहीं !    खबर है कि !    हल्दी का सीन करते नम हुई आंखें !    

जहर निगला, मां-बेटे की मौत

Posted On January - 11 - 2017

कैथल, 11 जनवरी (हप्र)

कैथल अस्पताल में बुधवार को विलाप करते महिला के परिजन।-हप्र

कैथल अस्पताल में बुधवार को विलाप करते महिला के परिजन।-हप्र

घरेलू कलह और दहेज प्रताड़ना से दुखी होकर एक महिला ने मंगलवार को अपने दो बच्चों सहित जहर निगल लिया। तीनों की हालत खराब होने पर परिजनों ने उन्हें एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया। जहां मां सुनीता (28), बेटे राहुल (2) की मौत हो गई। वहीं बेटी पायल (4)  गंभीर हालत में अस्पताल में जिंदगी से जंग लड़ रही है। राजस्थान में अलवर के रहने वाले सुनीता के पिता कश्मीरी लाल की शिकायत पर पुलिस ने पति नरेश कुमार सहित 7 लोगों पर केस दर्ज किया है। कश्मीरी लाल का कहना है कि उसने बेटी सुनीता की शादी कैथल नानकपुरी कॉलोनी ओढांवाली गामड़ी निवासी नरेश से करीब 6 वर्ष पूर्व करवाई थी। सुनीता के पास एक बेटा था व एक बेटी है।
परिजनों ने दामाद पर लगाये गंभीर आरोप
कश्मीरी लाल ने बताया कि उसका दामाद नरेश का चाल-चलन ठीक नहीं था। नरेश के खिलाफ पहले भी डकैती, छेड़छाड़ सहित कई मामले दर्ज हैं। नरेश गाड़ी ड्राइवर है। वह उसकी बेटी सुनीता से दहेज की मांग करता था और दहेज नहीं लाए जाने पर उसकी बेटी के साथ मारपीट करता था। कई बार इसकी शिकायत उसकी बेटी ने उन्हें की थी। उन्होंने नरेश की कई बार मदद भी की और उसे दहेज में बाइक भी दिलवाई, लेकिन फिर भी वह उसकी बेटी के साथ मारपीट करता था।
बताया जा रहा है कि घटना वाले दिन मृतका का पति वैष्णों देवी के दर्शन करने के लिए गया था। जिसे मोबाइल पर जानकारी देकर वापस बुलाया गया। शहर थाना प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि मृतका सुनीता के पिता की शिकायत पर सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

उचित कार्रवाई होगी: डीएसपी
सूचना पाकर अस्पताल में डीएसपी सतीश गौतम पहुंचे। उन्होंने मृतका के परिजनों को विश्वास दिलवाया कि पुलिस मामले में उचित कार्रवाई करेगी। दोषियों को नहीं बख्शा जाएगा। गौतम ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए हैं। मृतका के पिता की शिकायत पर सुनीता के पति नरेश उर्फ  निक्का, जेठ राकेश, ससुर सतपाल, सास बंती देवी, पति का चाचा जिकेंद्र, दादा चंदा व नानी संतो के खिलाफ  केस दर्ज कर लिया है।

 डकैती, छेड़छाड़ में शामिल रहने का आरोप
महिला के पिता का आरोप है कि कुछ साल पहले दामाद पर डकैती का केस लगा तो उसे छुड़वाने में 80 हजार रुपये लगे, फिर दुष्कर्म के केस से बाहर निकलवाने में भी काफी पैसे खर्च किए, लेकिन आरोपियों की दहेज मांग जारी रही। उसके पास इतने पैसे नहीं थे कि इसलिए उसने परेशान होकर बार-बार दहेज मांग पूरी करने से मना कर दिया। आरोप है कि इसी रोज-रोज के झगड़े और प्रताड़ना से परेशान होकर ही उसकी बेटी सुनीता ने दोनों बच्चों सहित सल्फास की गोली (जहर) खाया है।


Comments Off on जहर निगला, मां-बेटे की मौत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.