मोदी और ट्रंप ने फोन पर की बातचीत !    साढ़ू को करोड़ों का फायदा पहुंचाने के मामले में केजरीवाल की मुशिकलें बढ़ीं !    विभाग किये छोटे, कर रही निजीकरण !    रिमी सेन भाजपा में, सनी देओल की भी चर्चा !    शिल्पा शेट्टी बोलीं-मुलाकात के बाद आया 'चैन' !    शाहरुख को देखने स्टेशन पर भगदड़, एक की मौत !    बुजुर्गों ने की सरकार की हाय-हाय !    गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में दिखेगा धनुष का ‘शौर्य’  !    यूपी में बहुमत तो बनेगा मंदिर : भाजपा !    सीबीआई की परीक्षा !    

बायोमेट्रिक से लगेगी फर्जीवाड़े पर लगाम

Posted On January - 11 - 2017

प्रथम शर्मा/निस
झज्जर, 11 जनवरी
हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में आउटसोर्स का ठेका लेने वाली कंपनियों के फर्जीवाड़े पर लगाम लगाने की तैयारी कर ली है। इस कड़ी में आउटसोर्स के तहत कार्यरत कर्मचारियोंं को भी सरकारी कर्मचारियों की तरह बायोमेट्रिक मशीन से हाजिरी लगानी होगी। प्रदेश के सभी अस्पतालों में कार्यरत ऐसे कर्मचारियों को 16 जनवरी से बायो मैट्रिक मशीनों से ही हाजिरी लगानी होगी। इस सम्बन्ध में विभाग के महानिदेशक की ओर से प्रदेश के सभी सीएमओ को आदेश जारी कर दिये गये हैं।
विभागीय अधिकारी फिलहाल इस निर्णय को कर्मचारियों के समय पर आना और समय पर जाना सुनिश्चित करने की बात कर रहे हैं। वहीं, सूत्रों के मुताबिक यह निर्णय आउटसोर्स का ठेका लेने वाली कंपनियों के फर्जीवाड़े को रोकने के लिए लिया गया है। बताया जा रहा है कि कम्पनियां ठेके पर दिए जाने वाले पूरे कर्मचारियों को नियुक्त नहीं करती और कुछ पदों पर फर्जी नाम दर्शाकर उनका वेतन व अन्य सुविधाओं के लिए मिलने वाली राशि को हड़प लिया जाता है।
भिवानी के नागरिक अस्पताल में ठेका लेने वाली फर्म द्वारा किये गये फर्जीवाड़े का खुलासा एक आरटीआई के माध्यम से हो चुका है। झज्जर के नागरिक अस्पताल में भी ठेका लेने वाली फर्म द्वारा 5 कर्मचारियों का नाम फर्जी तरीके से चलाए जाने का मामला सामने आया था। इतना ही नहीं उक्त फर्म द्वारा एक ही समय में एक कर्मचारी का वेतन 2 स्थानों से लिया गया था। हालांकि फर्म के इस फर्जीवाड़े की जांच पिछले लंबे समय से चल रही है और दो जगह से वेतन लेने के मामले में रिकवरी भी की जा चुकी है। इसके बावजूद अभी तक फर्म के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गयी। ऐसे में बायोमैट्रिक मशीन से हाजिरी लगाए जाने के निर्णय को जहां कर्मचारियों के हित में माना जा रहा है वहीं अस्पतालों की सेवाओं में भी इस निर्णय से इजाफा होगा। सरकारी अस्पतालों में सफाई कर्मियों से लेकर चतुर्थ श्रेणी तक के कर्मचारियों में ज्यादातर आउटसोर्स के तहत लगे हैं।


Comments Off on बायोमेट्रिक से लगेगी फर्जीवाड़े पर लगाम
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.