मोदी और ट्रंप ने फोन पर की बातचीत !    साढ़ू को करोड़ों का फायदा पहुंचाने के मामले में केजरीवाल की मुशिकलें बढ़ीं !    विभाग किये छोटे, कर रही निजीकरण !    रिमी सेन भाजपा में, सनी देओल की भी चर्चा !    शिल्पा शेट्टी बोलीं-मुलाकात के बाद आया 'चैन' !    शाहरुख को देखने स्टेशन पर भगदड़, एक की मौत !    बुजुर्गों ने की सरकार की हाय-हाय !    गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में दिखेगा धनुष का ‘शौर्य’  !    यूपी में बहुमत तो बनेगा मंदिर : भाजपा !    सीबीआई की परीक्षा !    

शिमला, मनाली और अन्य जगहों पर सड़कें-पानी सब जाम

Posted On January - 11 - 2017

शिमला, 11 जनवरी (निस)

शिमला में बुधवार को छत से टपकती पानी की धार बीच में ही यूं जम गई। -प्रेट्र

शिमला में बुधवार को छत से टपकती पानी की धार बीच में ही यूं जम गई। -प्रेट्र

पहाड़ों पर हुई बर्फबारी के बाद पूरा हिमाचल प्रदेश जबरदस्त ठंड की चपेट में है। आज राज्य के अधिकांश स्थानों पर तापमान जमाव बिंदू तथा इससे नीचे चला गया है। तापमान में आई इस भारी गिरावट से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। खासकर मध्यम व अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर पानी जमने की समस्या से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है और लोग या तो घरों में ही कैद हो कर रह गए हैं या फिर दोपहर तक ही घर से निकल पा रहे हैं।
शिमला में आज न्यूनतम तापमान -3.2 डिग्री तक गिर गया। इस कारण शहर में सड़कों पर पड़ी बर्फ और बह रहा पानी शीशा बन गया है। जहां लोगों का पैदल चलना दूभर हो गया वहीं अत्यधिक फिसलन के कारण वाहन भी नहीं चल पा रहे हैं। शहर में अधिकांश स्थानों पर पानी की पाइपें भी जम गई हैं। इस कारण लोगों को पानी भी नसीब नहीं हो रहा है।
शहर में दो दर्जन से अधिक स्थानों पर पानी की पाइपें फट जाने की भी सूचना है। सड़कों पर अत्यधिक फिसलन के कारण शिमला से आगे हिन्दुस्तान-तिब्बत मार्ग और ऊपरी शिमला के रोहडू-ठियोग-जुब्बल कोटखाई तथा चौपाल के लिए आज भी यातायात बहाल नहीं हो पाया।
इन क्षेत्रों में यातायात चालू न होने के कारण लोगों को आवश्यक चीजों की भारी कमी हो गई है। शिमला में अभी भी अधिकांश हिस्सों में बिजली आपूर्ति ठप है। शिमला में  बर्फबारी के छह दिन बाद भी बिजली बहाल न हो पाने के चलते अब ये जानलेवा भी साबित हो रही है। आज ठंड लगने के कारण शिमला के चक्कर में 46 वर्षीय गोपाल सिंह कपाटिया की मौत हो गई। कपाटिया पशुपालन निदेशालय में अधीक्षक के पद पर तैनात थे। बीती रात ही शिमला के साथ चैली गांव में घर में सोए पांच मजदूरों की गैस लगने के कारण मौत हो गई। ये पांचों मजदूर बिहार के रहने वाले थे और अंगीठी लगाकर कमरे में सो गए थे।
इस घटना का बीती देर रात पता चला। ये सभी कारपेंटर का काम करते थे।
उधर मनाली में आज पारा -6.6 तक लुढक गया।  केलांग आज भी सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान -11.4, कल्पा में -8.6, सोलन में -1, सुंदरनगर में 0.4, कांगड़ा में 0.7, ऊना में 0.6 और भूंतर में 1.5 डिग्री दर्ज किया गया।

अभी ठंड से राहत नहीं
मौसम विभाग ने बीते 24 घंटों के दौरान भरमौर में 10, कोठी में 8, मनाली में 6, कल्पा में 5 और केलांग व शिमला में 1-1 सेंटीमीटर ताजा बर्फ दर्ज की। विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि 14 जनवरी से ताजा पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है जिसके प्रभाव से 14 से 17 जनवरी तक राज्य में फिर से व्यापक वर्षा और बर्फबारी होगी।

शिमला में बुधवार को प्रदर्शन करते हुए भाजपा कार्यकर्ता। -दैनिक ट्रिब्यून

शिमला में बुधवार को प्रदर्शन करते हुए भाजपा कार्यकर्ता। -दैनिक ट्रिब्यून

भाजपा सड़क पर
बर्फबारी के बाद बिगड़े हालात और लगभग एक सप्ताह बाद भी स्थिति के नियंत्रण में न आने के मुद्दे पर आज भाजपा ने शिमला में सड़कों पर उतरकर विरोध किया। शिमला भाजपा मंडल के कार्यकर्ताओं ने अध्यक्ष प्रदीप कश्यप के नेतृत्व में जिलाधीश कार्यालय के बाहर धरना दिया। कश्यप ने कहा कि शिमला में अभी तक प्रमुख सम्पर्क सड़क मार्ग भी बर्फ के कारण अवरुद्ध हैं और लोग उसके कारण कई जगहों पर गिर रहे हैं और गम्भीर रूप से घायल हो रहे हैं, परन्तु सरकार और नगर निगम इसके लिए कोई भी जिम्मेवारी लेने को तैयार नहीं हैं।

इंजीनियरिंग कॉलेज में 5 दिन से बत्ती गुल
शिमला (निस) : शिमला जिला के ऊपरी क्षेत्र कोटखाई के प्रगतिनगर में स्थित अटल बिहारी वाजपेयी इंजीनियरिंग कॉलेज में बीते पांच दिनों से बिजली गुल है। संस्थान के छात्र पहले ही दिन से बिजली के दुरुस्त करने की गुहार लगा रहे हैं लेकिन अभी तक इनकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई है। ऐसे में जहां इस कॉलेज के छात्रों की पढ़ाई पूरी तरह से ठप हो गई है वहीं इन्हें खून जमा देने वाली सर्दी का भी सामना करना पड़ रहा है। इस कॉलेज में इस वक्त 300 छात्र मौजूद हैं।


Comments Off on शिमला, मनाली और अन्य जगहों पर सड़कें-पानी सब जाम
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.