सपा प्रत्याशी ने लिया नाम वापस !    सुप्रीम कोर्ट की शरण में प्रजापति गिरफ्तारी पर रोक की अर्जी !    गुजरात के तो गधों का भी होता है प्रचार !    दलित की बेटी हेलीकॉप्टर में घूमे, मोदी को अच्छा नहीं लगता !    बहुजन से बहनजी तक सिमटी बसपा : मोदी !    दहेज लोभी को नकारा, इंजीनियर से रचायी शादी !    गैंगस्टर के 4 अौर समर्थक गिरफ्तार !    मेट्रो महिला ने किया आत्महत्या का प्रयास !    जगमग योजना के विरोध में जड़ा बिजलीघर को ताला !    कोर्ट ने महिला की याचिका की खारिज !    

सामाजिक सुरक्षा के दायरे में आ सकते हैं कुली

Posted On January - 1 - 2017

नयी दिल्ली, 1 जनवरी (एजेंसियां)
रेलवे के कुली जल्द सामाजिक सुरक्षा के दायरे में आ सकते हैं। कुलियों को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की योजनाओं के दायरे में लाने के लिए सरकार प्रत्येक रेल टिकट पर 10 पैसे का उपकर लगाने पर विचार कर रही है। रेल कुलियों की संख्या करीब 20,000 है। सरकार का कुल मिलाकर असंगठित क्षेत्र के 40 करोड़ से अधिक कामगारों को ईपीएफओ के सामाजिक सुरक्षा के दायरे में लाने का इरादा है। गणना में अनुमान लगाया गया है कि इस उपकर से सालाना 4.38 करोड़ रुपये जुटाए जा सकेंगे। इससे कुलियों को सामान्य सुविधाएं जैसे कि पीएफ, पेंशन तथा समूह बीमा आदि सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकेंगी। भारतीय रेल द्वारा प्रतिदिन 10 से 12 लाख रेल टिकट जारी किए जाते हैं। इस हिसाब से प्रतिदिन उपकर से 1.2 लाख रुपये जुटेंगे।      कर्मचारियों के प्रतिनिधि अशोक सिंह ने इस बारे में प्रस्ताव किया था। ईपीएफओ के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) के चेयरमैन एवं श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने इस प्रस्ताव पर विचार का आश्वासन दिया है।

एनपीएस खाता ‘आधार’ से तो फॉर्म नहीं जरूरी

नयी पेंशन स्कीम (एनपीएस) का खाता खोलने के नियमों को आसान बनाते हुए पेंशन नियामक पीएफआरडीए ने आधार संख्या और ई-हस्ताक्षर के माध्यम से यह खाता खोलने के लिए कागजी फॉर्म की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है।


Comments Off on सामाजिक सुरक्षा के दायरे में आ सकते हैं कुली
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.