शादी समारोह से बच्चे ने चुराया 3 लाख का बैग !    फर्जी अंगूठा लगाकर मनरेगा के खाते से उड़ाये लाखों !    गुरु की तस्वीरों पर प्रकाश अाभा न दिखाने पर एतराज !    हरियाणा में 2006 के बाद के कर्मियों को भी ग्रेच्युटी !    पहले दिया समर्थन, अब झाड़ा पल्ला !    सप्ताह भर में न भरा टैक्स तो टावर होंगे सील !    पेंशन की दरकार, एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन !    परियोजना वर्करों की देशव्यापी हड़ताल कल !    आईएस का हाथ था कानपुर रेल हादसे में !    आज फिर चल पड़ेगी नेताजी की कार !    

खुला पन्ना › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
हम विवेकानंद से अप्रभावित क्यों हैं?

हम विवेकानंद से अप्रभावित क्यों हैं?

काॅफी पर गपशप हरीश खरे बृहस्पतिवार को मुझे ग्रामीण एवं औद्योगिक विकास शोध केंद्र (क्रिड) के डॉ. कृष्ण चंद ने बताया कि उस दिन स्वामी विवेकानंद की जयंती थी। डॉ. कृष्ण चंद ने बड़ी उत्सुकता के साथ मुझे उन द्वारा संपादित '‘रेलेवेंस ऑफ स्वामी विवेकानंद इन कंटेम्परेरी इंडिया’ नामक पुस्तक की प्रति ...

Read More

पसंद का नेता तय करने का समय

पसंद का नेता तय करने का समय

काॅफी पर गपशप हरीश खरे पंजाब का मतदाता अगले पांच साल के लिए अपने हुक्मरान चुनने के लिए 4 फरवरी को मतदान करेगा। क्या ये मतदाता सहजता के साथ ईमानदार विकल्प चुन पाने के प्रति आश्वस्त होगा? एक नागरिक के नज़रिए से कहें तो यह बात बहुत महत्वपूर्ण है कि पंजाब में चुनाव ...

Read More

फिर से दायित्व निभाने का समय

फिर से दायित्व निभाने का समय

काॅफी पर गपशप हरीश खरे हमने एक और नये साल में प्रवेश किया है और भले ही हम नये साल का जश्न मना रहे हैं लेकिन फिर भी हमें अपने गणतंत्र और लोकतांत्रिक संस्थानों को दरपेश चुनौतियों के प्रति दोगुना जागरूक रहना होगा। मीडिया के लिए विशेषकर नया साल बहुत ही कठिन ...

Read More

जीवन नये सिरे से जीने की कला...

जीवन नये सिरे से जीने की कला...

काॅफी पर गपशप हरीश खरे दिल्ली के उप-राज्यपाल नजीब जंग ने एक बहुत ही ‘अ-भारतीय’ काम कर डाला : उन्होंने एक काफी महत्वपूर्ण काम छोड़ दिया। दिल्ली के राज निवास को छोड़ने के पीछे उन्होंने जो कारण बताया, वह भी एक बार फिर ‘अ-भारतीय’ ही है: वह अपने परिवार के साथ वक्त ...

Read More

वे कभी रिटायर क्यों नहीं होते?...

वे कभी रिटायर क्यों नहीं होते?...

काॅफी पर गपशप हरीश खरे कुछ द नि पूर्व, एक बेहद असामान्य घटना घटी। एक प्रधानमंत्री ने यूं ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया। इस हफ्ते के शुरू की यह घटना न्यूजीलैंड की है, जहां प्रधानमंत्री जाॅन की ने बड़े ही सादगी भरे अंदाज में अपने देश-वािसयों को कहा कि ‘अाठ ...

Read More

मोहन भागवत से मिले उद्धव ठाकरे, राजनाथ

मोहन भागवत से मिले उद्धव ठाकरे, राजनाथ

नागपुर, 4 दिसंबर (एजेंसी) केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने आज यहां राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत से भेंट की।  आज सुबह यहां पहुंचने के बाद ठाकरे आरएसएस मुख्यालय गए जहां उन्होंने भागवत से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच लगभग एक घंटे चली बैठक ...

Read More

इंसाफ के लिए मंत्री के घर पर प्रदर्शन

इंसाफ के लिए मंत्री के घर पर प्रदर्शन

गुरुग्राम, 4 दिसंबर (हप्र) पांच साल की बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में पीड़ित परिवार के लिए न्याय की मांग करते हुए कई सामाजिक संगठनों ने पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर के आवास के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि पुलिस पूरे प्रकरण में लापरवाही बरत रही ...

Read More


इंतजार 19 मई का…

Posted On May - 15 - 2016 Comments Off on इंतजार 19 मई का…
आगामी बृहस्पतिवार देश की राजनीति व्यापक स्तर पर नये सिरे से परिभाषित होगी। 19 की शाम तक हमें असम, केरल, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु तथा पांडिचेरी विधानसभा चुनाव में जीतने और हारने वालों का पता चल जायेगा। और ये परिणाम निश्चित तौर पर राष्ट्रीय स्तर पर समीकरणों, गठबंधन और मूड को पुनर्परिभाषित करेंगे। ....

‘सफेद मक्खी’ से युद्ध के लिए बना ‘चक्रव्यूह’

Posted On May - 8 - 2016 Comments Off on ‘सफेद मक्खी’ से युद्ध के लिए बना ‘चक्रव्यूह’
सफेद मक्खी के प्रकोप से परेशान नरमा कपास की खेती करने वाली किसानों को इस बार घबराने की जरूरत नहीं है। कृषि विशेषज्ञों ने दावा किया है कि किसानों को नरमा के खेत के चारों ओर खास किस्म के पौधों का चक्रव्यूह तैयार करना होगा। सफेद मक्खी इस चक्रव्यूह नहीं तोड़ पायेगी। ....

धान की सीधी बिजाई कराओ, लेबर की समस्या से निजात पाओ

Posted On May - 8 - 2016 Comments Off on धान की सीधी बिजाई कराओ, लेबर की समस्या से निजात पाओ
हरियाणा के कम से आधे जिलों में गेंहू, गन्ना, धान की फसल मुख्य तौर होती है। गेंहू तो किसानों ने जैसे तैसे उठा ली,लेकिन अब उन्हें धान की रोपाई व गन्ने की खुदाई के लिए लेबर की किल्लत सताने लगी है। कृषि विशेषज्ञ एवं उप निदेशक डा. आदित्य प्रताप डबास का कहना है कि लेबर की समस्या से निपटने के लिए टैक्रोलाजी अपनानी पड़ेगी। पैडी ....

गायों ने दिखाए जलवे, पैरों में घुंघरु बांध रैंप पर छम-छम करती चली गाय

Posted On May - 8 - 2016 Comments Off on गायों ने दिखाए जलवे, पैरों में घुंघरु बांध रैंप पर छम-छम करती चली गाय
रोहतक के अन्तर्राष्ट्रीय पशु चिकित्सा एवं शोध संस्थान बहुअकबर पुर में 8 मई को पैरों में घुंगरु गले में लाल व पीली रंग की चुन्नी के साथ छम-छम करती गाय जब रैंप पर कैटवॉक करने उतरी तो हर कोई देखकर अंचभित था। प्रतियोगिता में गाय रैंप आई तो तालियों के साथ स्वागत किया गया। पशुपालकों को करीब 13 लाख रूपए के इनाम दिए ....

एक अच्छा स्वयंसेवक आखिर किस काम का?

Posted On May - 8 - 2016 Comments Off on एक अच्छा स्वयंसेवक आखिर किस काम का?
पिछले बुधवार हरियाणा सरकार ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट को बताया कि उसे फरवरी में जाट आंदोलन के दौरान हुए ‘मुरथल कांड’ के ‘पीडि़तों’ की वास्तव में जानकारी थी। इससे भी बढ़कर न्यायमित्र ने अदालत को यह भी बताया कि ‘पीडि़तों’ में से दो हरियाणा राजभवन के एक कर्मचारी के रिश्तेदार थे। ....

ग्रीन हाउस और पाली हाउस पर सरकारी मदद का उठाएं लाभ

Posted On May - 1 - 2016 Comments Off on ग्रीन हाउस और पाली हाउस पर सरकारी मदद का उठाएं लाभ
पंजाब में रोपड़ से जोगेंद्र सिंह, हरियाणा में छछरौली यमुनानगर के प्रदीप कुमार शर्मा, घरौडा के महेंद्र चौधरी, पेहोवा कुरुक्षेत्र से सुमन सिंह, मोरनी से सुरेंद्र कुमार ने खेती की लगातार बढती लागत और पानी की कमी से धान गेहूं की खेती में लगातार घाटे को लेकर चिंता जताई है। इन किसानों का कहना है कि किसान घाटे पर घाटा उठाता है, मौसम की मार और बाजार की उपेक्षा के चलते लगातार कर्ज में डूबे किसान 

रसोई के कचरे से मुफ्त मिलेगी ईंधन की लौ

Posted On May - 1 - 2016 Comments Off on रसोई के कचरे से मुफ्त मिलेगी ईंधन की लौ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को यूपी के बलिया से उज्जवला योजना का शुभारंभ किया। उन्होने बीपीएल वर्ग की महिलाओ केा धुंए की रसोई से मुक्ति दिलाने वाली उज्ज्वला योजना को शुरू करते हुए कहा कि अब गरीब महिलाओ की रसोई मे धुंआ नही रहेगा वहां उज्ज्वला का उजाला रहेगा। यह बात बिलकुल सही है कि रसोई गैस के प्रयोग से गांवों का पर्यावरण तो सुधरेगा ही, घरों में लकड़ी और गोबर के कंडों की मदद 

किसानों को पेंशन देने की तैयारी, हरियाणा ने की पहल

Posted On May - 1 - 2016 Comments Off on किसानों को पेंशन देने की तैयारी, हरियाणा ने की पहल
उपेंद्र पाण्डेय हरियाणा के किसानों के लिये खुद की (सेल्फ) पेंशन योजना पर कार्य किया जा रहा है ताकि 60 वर्ष की आयु के बाद उन्हें पेंशन मिल सकें। किसानों के लिए कृषि ङ्क्षसचाई योजना, फसल बीमा योजना और साँयल हैल्थ कार्ड इत्यादि योजना संचालित की जा रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बीते वृहस्पतिवार को इन्स्टीटयूट फोर डेवलेपमेंट एंड कम्यूनिकेशन (आईडीसी) में उत्तरी राज्यों के 

मनौली में स्वीटकार्न से लेकर अमेरिकी ब्रोकली तक की बहार

Posted On April - 24 - 2016 Comments Off on मनौली में स्वीटकार्न से लेकर अमेरिकी ब्रोकली तक की बहार
पुरुषोत्तम शर्मा जहां आमतौर पर खेती को घाटे का सौदा माना जा रहा है, वहीं सोनीपत जिले का गांव मनौली खेती की बदौलत अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति अर्जित कर रहा है। इसकी वजह है यहां की खेती की तकनीकी और समय के साथ कदमताल करते किसान। वैसे तो मनौली की अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान सबसे अधिक स्वीट कार्न पैदा करने वाले गांव के रूप में है, लेकिन यहां का किसान तकनीक से इस तरह जुड़ गया है कि 

नीम के मित्र परजीवियों पर सफेद मक्खी के खात्मे की टिकी आस

Posted On April - 24 - 2016 Comments Off on नीम के मित्र परजीवियों पर सफेद मक्खी के खात्मे की टिकी आस
कुमार मुकेश बीते साल खरीफ मौसम में कपास पर जब सफेद मक्खी का प्रकोप हुआ तो यह भी देखने में आया  कि जिन किसानों ने शुरुआत में नीम आधारित कीटनाशक का छिड़काव किया था, उनके खेतों में सफेद मक्खी से काफी कम नुकसान हुआ है। नीम के इन परजीवियों ने कपास की सफेद मक्खी के खात्मे की आस जगा दी है। प्रदेश में कपास की फसल को नुकसान पहुंचाने वाले मिलीबग कीट को बिना कीटनाशक के परजीवियों द्वारा नियंत्रित 

कर्ज पर कर्ज न लें, कुछ हुनर और आय के साधन भी तलाशें

Posted On April - 24 - 2016 Comments Off on कर्ज पर कर्ज न लें, कुछ हुनर और आय के साधन भी तलाशें
उपेंद्र पाण्डेय पंजाब के मानसा अबोहर और मोगा में चौबीस घंटे के भीतर तीन तीन किसानों की आत्महत्या से आहत कई किसानों ने सवाल किया है कि आखिर कबतक किसानों को फसल बर्बादी, कर्ज और बाजार की मार के फंदे में जान देते रहना पड़ेगा। इन तीन किसानों में दो युवा थे जिनकी आयु तो 32 और 25 साल ही थी। पटियाला से सरदार संतोख सिंह, सिरसा से गुरबचन, भिवानी से महिंदर और रेवाड़ी से किशनगोपाल ने चिंता जताई 

आखिर राज्यसभा पहुंच ही गये डा. स्वामी

Posted On April - 24 - 2016 Comments Off on आखिर राज्यसभा पहुंच ही गये डा. स्वामी
काॅफी पर गपशप हरीश खरे डा. सुब्रह‍‍्मण्यम स्वामी अंतत: राज्यसभा में पहुंच ही गये और इस बारे में किसी को भ्रम नहीं होना चाहिए कि : उन्होंने ‘भाजपा हाईकमान’ को उन्हें राज्यसभा में भेजने के लिए लगभग मजबूर कर दिया। उन्होंने वस्तुत: खुद को ‘मनोनीत’ करवाने का ‘हुक्म’ दिया। मैं डा. स्वामी को करीब दो दशक से जानता हूं और हमारे संबंध उतार-चढ़ाव भरे रहे हैं। वह जानबूझकर ऐसी राजनीति 

पहले घूंघट में और अब राजबाला दूधवाली

Posted On April - 17 - 2016 Comments Off on पहले घूंघट में और अब राजबाला दूधवाली
कुमार मुकेश कहते हैं कि मेहनत से किस्मत लिखी है। कुछ इसी कहावत पर हिसार की एक महिला अपनी दो बेटियों और एक बेटे की किस्मत लिखने के लिए दिन में 20 घंटे, 30 मिनट काम कर रही है। शादी के बाद वर्षों तक घूंघट में रहने वाली राजबाला अब अकेली न सिर्फ 12 एकड़ खेत, 25 भैंसों की डेयरी संभाल रही है बल्कि पूरा दूध स्वयं निकालकर उसको एक जीप में ले जाकर बांटती भी है। बस ख्वाहिश है कि उसके बेटा-बेटी की पढ़ाई 

पानी की बूंद-बूंद बचाओ, सरकार से सबसिडी भी पाओ

Posted On April - 17 - 2016 Comments Off on पानी की बूंद-बूंद बचाओ, सरकार से सबसिडी भी पाओ
पटियाला से जगविंदर सिंह, राजपुरा से जोगिंदर, गुड़गांव से गौरव शर्मा और सुरेंद्र यादव, रोहतक से रोशनलाल, सिवानी मंडी से प्रभात कुमार, हिसार से सुरेश सोनी आदि किसान भाइयों ने सूखे और पानी को लेकर राजनीति, सरकारी कवायद और सूखे का मामला भी कोर्ट में चले जाने के बाबत चिंता जताई है और कहा है कि आखिर किसानों के लिए ऐसे में क्या रास्ता है। सूखे को लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट में है और कल यानी मंगलवार 

मां-बच्चों की ही तरह खेत की माटी का भी कराएं स्वास्थ्य परीक्षण

Posted On April - 17 - 2016 Comments Off on मां-बच्चों की ही तरह खेत की माटी का भी कराएं स्वास्थ्य परीक्षण
उपेंद्र पाण्डेय किसान सभी का पालक है, किंतु जो धरती किसान का पालन करती है, आज जल्दी से जल्दी ज्यादा से ज्यादा पैसा उगाह लेने की धुन में अधिकांश किसान अपनी माटी की सेहत का ध्यान नहीं रख रहे हैं। सबसे बुरा तो यह है कि कई किसान लेबर का खर्च बचाने के चक्कर में खेतों में खरपतवार पराली भूसा डंठल आदि जला देते हैं। खेतों में आग लगाना किसी जीवित प्राणी को जीते जी फूंक डालने जैसा है। केंद्रीय 

‘‘मैं भूखा रह सकता हूं, मगर पैसे स्वीकार नहीं कर सकता…’’

Posted On April - 17 - 2016 Comments Off on ‘‘मैं भूखा रह सकता हूं, मगर पैसे स्वीकार नहीं कर सकता…’’
काॅफी पर गपशप हरीश खरे करीब 6 माह पूर्व मेरे एक युवा सहयोगी ने मुझे दलित कवि बंत सिंह के संघर्ष और साहस के बारे में बताया। तभी से मैं उनके हौसले को सलाम करने के बारे में सोच रहा था। यह मौका मुझे इस सप्ताह मिल ही गया जब उन्होंने दिल्ली सरकार के एक पुरस्कार को लेने से इनकार कर दिया। दिल्ली सरकार द्वारा प्रस्तावित यह पुरस्कार राजनीतिक उद्देश्यों को ध्यान में रखते हुए बाबा साहेब 
Page 7 of 18« First...3456789101112...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.