शादी समारोह से बच्चे ने चुराया 3 लाख का बैग !    फर्जी अंगूठा लगाकर मनरेगा के खाते से उड़ाये लाखों !    गुरु की तस्वीरों पर प्रकाश अाभा न दिखाने पर एतराज !    हरियाणा में 2006 के बाद के कर्मियों को भी ग्रेच्युटी !    पहले दिया समर्थन, अब झाड़ा पल्ला !    सप्ताह भर में न भरा टैक्स तो टावर होंगे सील !    पेंशन की दरकार, एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन !    परियोजना वर्करों की देशव्यापी हड़ताल कल !    आईएस का हाथ था कानपुर रेल हादसे में !    आज फिर चल पड़ेगी नेताजी की कार !    

तन-मन › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
मुंहासों से बचायें ये उपाय

मुंहासों से बचायें ये उपाय

ये बिन बुलाए आते हैं और लंबे समय तक रहते हैं। एक्ने यानी मुंहासे ऐसी समस्या है, जिसका सामना ज्यादातर लोगों को करना पड़ता है। संतुलित आहार और पर्याप्त पानी पीकर मुंहासों से बचा जा सकता है। त्वचा विशेषज्ञ चिरंजीव छाबड़ा ने बताये हैं मुंहासों को दूर करने के कुछ ...

Read More

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

तुम्हारे विचारों की कोई जड़ें नहीं हैं, उनका कोई घर नहीं है; वे बादलों की तरह भटकते हैं। इसलिए तुम्हें उनके साथ संघर्ष नहीं करना है, तुम्हें उनके विपरीत नहीं होना है, तुम्हें उन्हें रोकने का भी प्रयास नहीं करना है। यह तुम्हारे भीतर गहरी समझ बन जानी चाहिए, क्योंकि ...

Read More

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

भोजन को मसालेदार बनाने के लिए मशहूर भारतीय पीपली का उपयोग जल्द ही कैंसर के इलाज की प्रभावी दवा तैयार करने में किया जा सकता है। बायोलॉजिकल केमिस्ट्री जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार पीपली में एक ऐसा रसायन पाया जाता है जो शरीर को उस एंजाइम बनाने से ...

Read More

जाड़े में जोड़ों को चुस्त, दिल को दुरुस्त रखे अलसी

जाड़े में जोड़ों को चुस्त, दिल को दुरुस्त रखे अलसी

सर्दी के इन दिनों में अलसी खाने से जहां जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है, वहीं कई अन्य फायदे भी होते हैं। आहार विशेषज्ञ अंजलि मुखर्जी के मुताबिक यदि गठिया की दिक्कत हो तो दिन में 2 बार अलसी के बीज व पाउडर लेने से जोड़ों में सूजन व ...

Read More

बढ़ती सर्दी में सेहत बढ़े, वजन नहीं

बढ़ती सर्दी में सेहत बढ़े, वजन नहीं

मृदुला वत्स, पीजीआई चंडीगढ़ के डाइटेटिक्स विभाग की पूर्व एचओडी मेटाबॉलिज्म, यानी हमारे पाचन से जुड़ी प्रक्रिया। यह प्रक्रिया सर्दियों में अकसर मंद पड़ जाती है। इसीलिए इस मौसम में कई लोगों का वजन बढ़ने लगता है। लेकिन, मेटाबॉलिज्म के मंद पड़ने का कारण ठंड नहीं, बल्कि हमारे खान-पान और जीवनशैली ...

Read More

उल्लास से समेटिये उजाला

उल्लास से समेटिये उजाला

केवल तिवारी सूर्य ऊर्जा का स्रोत है। ऊर्जा से आनंद है। आनंद है तो जीवन में उजाला है। उजाला यानी उल्लास। आत्मसात करने के लिए। दूसरों को रोशन करने के लिए। प्रार्थना से। खानपान से। यही है माघ महीने का संदेश। हिंदू पंचांग का 11वां महीना। एक खास महीना। उत्सव का ...

Read More

कैल्शियम कितना जरूरी!

कैल्शियम कितना जरूरी!

हमारे शरीर में कुल कैल्शियम का 99 फीसदी हड्डियों और दांतों में जमा होता है। बाकी एक फीसदी खून, मांसपेशियों और कोशिकाओं में होता है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के मुताबिक... 600 मिली ग्राम कैल्शियम हर रोज जरूरी होता है 1 से 9 साल की उम्र के बच्चों के लिए 10 ...

Read More


एक ही वक्त पर साेएं रोज

Posted On April - 27 - 2016 Comments Off on एक ही वक्त पर साेएं रोज
क्या आप जानते हैं कि पर्याप्त सोना जितना जरूरी है, उतना ही जरूरी है सोने का वक्त समान होना। यानी अगर आप रात 10 बजे सोने के लिए बिस्तर पर जाते हैं तो कोशिश करिये कि रोज लगभग ऐसे ही समय पर सोएं। यह आदत बच्चों में भी डालें। सोने के लिए रोज-रोज समय बदलना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। ....

हेल्थ कैप्सूल

Posted On April - 27 - 2016 Comments Off on हेल्थ कैप्सूल
फिनलैंड में किए गये एक शोध में पाया गया है कि बचपन में विटामिन-डी की पर्याप्त मात्रा न मिलने से बड़े होकर दिल की सेहत बिगड़ने का खतरा बढ़ जाता है। इन नतीजों तक पहुंचने के लिए शोधकर्ताओं ने 2 चरणों में अध्ययन किया। ....

पंचामृत

Posted On April - 27 - 2016 Comments Off on पंचामृत
शिवरात्रि पर चढ़ाया जाने वाला बेल गर्मी के इन दिनों में कई दिक्कतों से बचा सकता है... ....

सबक

Posted On April - 27 - 2016 Comments Off on सबक
एक फैक्टरी में सभी कर्मचारी काम में जुटे थे। सिर्फ एक व्यक्ति आराम से खड़ा था। वो बस इधर-उधर देख रहा था कि तभी फैक्टरी का एक बड़ा अफसर वहां आ पहुंचा। ....

मानवता से प्रेम करना आसान, मानव से मुश्किल!

Posted On April - 20 - 2016 Comments Off on मानवता से प्रेम करना आसान, मानव से मुश्किल!
अदृश्य बातों को प्रेम करना हमेशा आसान होता है। मानवता को प्रेम करना आसान है मानव को प्रेम करने से, क्योंकि मानवता को प्रेम करते हुए तुम किसी तरह की जोखिम नहीं उठा रहे हो। एक अकेला मानव अधिक खतरनाक है सारी मानवता से। मानवता शब्द है, कपोल कल्पना; इसमें कोई मिलती-जुलती वास्तविकता नहीं है। मानव वास्तविकता है, और जब तुम्हारा आमना-सामना वास्तविकता से होता है वहां अच्छा समय भी होगा, बुरा समय 

रात को कम खायें,  फ्रेश और फिट रहेंगे

Posted On April - 20 - 2016 Comments Off on रात को कम खायें,  फ्रेश और फिट रहेंगे
यदि आप देर रात तक जागते हैं तो इस दौरान खाने से दूरी बनाये रखें। पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के एक शोध में पाया गया है कि रात के समय कम खाने से एकाग्रता और सतर्कता पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसके अलावा नींद पर बुरा असर नहीं पड़ता। शोधकर्ताओं के मुताबिक रात के समय जागने वाले वयस्क लगभग 500 कैलोरी की खपत करते हैं। शोध से पता चला कि देर रात जगने के बावजूद खाने से बचने वाले लोग कई समस्याओं 

फसल

Posted On April - 20 - 2016 Comments Off on फसल
एक कहानी दो भाई थे। आपस में बहुत प्यार था। उनके खेत आसपास ही थे। बड़ा भाई शादीशुदा था। छोटा अकेला। एक बार खेती बहुत अच्छी हुई, अनाज बहुत हुआ। खेत में काम करते-करते बड़ा भाई बगल के खेत में छोटे भाई को खेत देखने का कहकर खाना खाने चला गया। उसके जाते ही छोटा भाई सोचने लगा कि खेती तो अच्छी हुई इस बार, अनाज भी बहुत हुआ। मैं तो अकेला हूं, बड़े भाई की तो गृहस्थी है। मेरे लिए तो ये अनाज जरूरत से ज्यादा 

मन से बनो हनुमान

Posted On April - 20 - 2016 Comments Off on मन से बनो हनुमान
भगवान हनुमान को महावीर, बजरंगबली जैसे अनेक नामों से जाना जाता है। उनके काम और उनका स्वस्थ, शक्तिशाली शरीर हर किसी को न सिर्फ आकर्षित करता है, बल्कि इस बात के लिए भी प्रेरित करता है कि हर व्यक्ति को अपने जीवन में स्वस्थ तन-मन और विचारों के साथ जीवनयापन करना चाहिए। आज व्यस्तता भरे माहौल में लोगों के पास समय ही नहीं है। वे सामाजिक जीवन से कटते जा रहे हैं और फेसबुक, व्हाट्सएप, मोबाइल की दुनिया 

गर्मी है… बीमारियां भी सताएंगी

Posted On April - 20 - 2016 Comments Off on गर्मी है… बीमारियां भी सताएंगी
गर्मी बढ़ने के साथ बढ़ रहा है बीमारियों का खतरा। जरा सी लापरवाही की तो लू लग गयी। इधर-उधर कहीं पानी पी लिया तो पीलिया-टायफाइड जैसी बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं। खासकर बच्चों के मामले में ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है। दिल्ली के लाल बहादुर अस्पताल के वरिष्ठ डॉक्टर डॉ. राजीव कपिल बता रहे हैं कि इस मौसम में होने वाली प्रमुख बीमारियों से बचने के लिए क्या करें और क्या न करें … रिचा 

सेहत धरती की नहीं हमारी बिगड़ेगी

Posted On April - 20 - 2016 Comments Off on सेहत धरती की नहीं हमारी बिगड़ेगी
शिशु और मां का रिश्ता बेहद आत्मीय व महत्वपूर्ण होता है। मां न केवल बच्चे को जन्म देती है, बल्कि यथासंभव अच्छी प्रकार से उसका पालन-पोषण भी करती है। यह तथ्य भी महत्वपूर्ण है कि मां के स्वास्थ्य का बच्चे की सेहत पर सीधा प्रभाव पड़ता है। यदि मां पूरी तरह स्वस्थ नहीं होगी, तो बच्चा भी स्वस्थ नहीं रह पाएगा। यदि शिशु को गर्मी-सर्दी, जुकाम या अन्य रोगों से बचाना है, तो मां को भी इन बीमारियों से बचाना 

एक कहानी

Posted On April - 13 - 2016 Comments Off on एक कहानी
ईमानदारी एक व्यक्ति पैसे निकलवाने बैंक गया। जैसे ही कैशियर ने रुपये दिए, उसने बिना गिने चुपचाप बैग में रखे और चल दिया। उसे पता था कि कैशियर ने गलती से बीस हजार ज्यादा दे दिए हैं। वह चल तो पड़ा, लेकिन फालतू पैसों को लेकर उसके मन में उधेड-बुन शुरू हो गयी। मन में आया कि फालतू पैसे लौटा दे, लेकिन दूसरे ही पल उसने सोचा कि जब मैं गलती से किसी को फालतू पेमेंट कर देता हूं, तो मुझे कौन लौटाने आता है। 

जीवन मंत्र

Posted On April - 13 - 2016 Comments Off on जीवन मंत्र
राम का महत्व क्या है? भारतीय मानस में राम का महत्व इसलिए नहीं है कि उन्होंने जीवन में इतनी मुश्किलें झेलीं, बल्कि उनका महत्व इसलिए है कि उन्होंने उन तमाम मुश्किलों का सामना बहुत ही शिष्टता पूर्वक किया। अपने सबसे मुश्किल क्षणों में भी उन्होंने खुद को बेहद गरिमापूर्ण रखा। उस दौरान वे एक बार भी न तो क्रोधित हुए, न उन्होंने किसी को कोसा और न ही घबराए या उत्तेजित हुए। हर स्थिति को उन्होंने 

दर्द ही जीवन है, पर रहे ध्यान इतना…

Posted On April - 13 - 2016 Comments Off on दर्द ही जीवन है, पर रहे ध्यान इतना…
दर्द जिंदगी का अहसास है। दर्द नहीं होगा तो शायद जिंदा रहने का अहसास नहीं होगा। इसको यूं समझिये, अगर शरीर का कोई हिस्सा मृतप्राय हो जाए तो क्या उसमें दर्द होगा? कदापि नहीं। दर्द कई तरह के हो सकते हैं। दर्द से जूझना सीखें, हार मानना नहीं। लेकिन इतना ध्यान रहे कि दर्द को अपनी हद से आगे न बढ़ने दें। ये सारी बातें कोई उपदेश नहीं, बल्कि शोध परिणाम हैं। लेकिन हर शोध का परिणाम यही है कि दर्द असाध्य 

हेल्थ कैप्सूल

Posted On April - 13 - 2016 Comments Off on हेल्थ कैप्सूल
रिटायरमेंट के बाद सुधरती है सेहत यह बातें अटपटी लग सकती हैं कि सेवानिवृत्ति के बाद किसी व्यक्ति की गतिविधियां बढ़ जाती हैं। उसकी बुरी आदतें कम हो जाती हैं और वह ज्यादा सेहतमंद होने लगता है। लेकिन ये सब बातें एक अध्ययन में सच साबित हुई हैं। अध्ययनकर्ताओं ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि रिटायरमेंट के बाद तो सेहत में ज्यादा सुधार आता है। एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि सेवानिवृत्ति 

निखार रहे बरकरार

Posted On April - 13 - 2016 Comments Off on निखार रहे बरकरार
रूखी त्वचा या बेजान बाल, ऐसी कई छोटी-छोटी दिक्कतें दूर करने के उपाय आपके आसपास ही मौजूद हैं। ब्यूटी से जुड़ी ऐसी कुछ समस्याओं के आसान समाधान बता रही हैं कॉस्मेटिक फिजिशियन डॉ. जुमना पई … आंखों के पास काले घेरे : एक चम्मच दूध के पाउडर में आधा चम्मच दही, दो बूंदें नींबू का रस और 2 बूंद शहद डालकर मिला लें। इस मिश्रण को काले घेरों पर लगायें। करीब 10 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो 

पानी अंदर तो रोग बाहर

Posted On April - 13 - 2016 Comments Off on पानी अंदर तो रोग बाहर
पानी खूब पीजिये। यह आपको कई तरह की शारीरिक समस्याओं से बचाये रखेगा। खासकर गुर्दे की पथरी से। असहनीय दर्द देने वाली यह बीमारी गलत खानपान और पानी कम पीने जैसी आदतों के कारण बढ़ रही है। देश में करीब 50 से 70 लाख लोग इससे पीड़ित हैं। चिंताजनक बात यह है कि यह युवाओं को भी तेजी से घेर रही है, खासकर 20 से 30 साल की उम्र के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। पथरी की वजह क्या है गुर्दे में पथरी का सबसे बड़ा कारण 
Page 10 of 33« First...6789101112131415...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय