सपा प्रत्याशी ने लिया नाम वापस !    सुप्रीम कोर्ट की शरण में प्रजापति गिरफ्तारी पर रोक की अर्जी !    गुजरात के तो गधों का भी होता है प्रचार !    दलित की बेटी हेलीकॉप्टर में घूमे, मोदी को अच्छा नहीं लगता !    बहुजन से बहनजी तक सिमटी बसपा : मोदी !    दहेज लोभी को नकारा, इंजीनियर से रचायी शादी !    गैंगस्टर के 4 अौर समर्थक गिरफ्तार !    मेट्रो महिला ने किया आत्महत्या का प्रयास !    जगमग योजना के विरोध में जड़ा बिजलीघर को ताला !    कोर्ट ने महिला की याचिका की खारिज !    

तन-मन › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
तनाव का कारण भीतर है, बाहर नहीं

तनाव का कारण भीतर है, बाहर नहीं

प्रतिदिन सामान्य क्रियाओं के बारे में सजग रहना सीखो, और जब अपनी सामान्य क्रियाएं कर रहे हो तब रिलैक्स रहो। तनाव लेने की कोई जरूरत नहीं है। जब तुम फर्श धो रहे हो, तब तनावपूर्ण होने की क्या जरूरत? या जब तुम खाना बना रहे हो तब तनावपूर्ण होने की ...

Read More

जीवन में ‘जहर’ घोल रहीं बनावटी सफेद चीजें

जीवन में ‘जहर’ घोल रहीं बनावटी सफेद चीजें

डायबिटीज यानी मधुमेह महामारी की तरह फैल रहा है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) का मानना है कि इस बीमारी के प्रमुख कारणों में हमारे रोजमर्रा के भोजन में सफेद चीनी, मैदा और चावल जैसी खाद्य वस्तुओं की अधिकता है। आईएमए के अध्यक्ष डॉक्टर केके अग्रवाल का कहना है, ‘रिफाइंड चीनी ...

Read More

दिल की दिक्क त सिर्फ कोलेस्ट्रॉल नहीं

दिल की दिक्क त सिर्फ कोलेस्ट्रॉल नहीं

अंजलि मुखर्जी न्यूट्रीशियनिस्ट दिल के रोगों से बचने के लिए सबसे पहले कोलेस्ट्रॉल पर ध्यान देने की सलाह दी जाती है। लेकिन, सिर्फ कोलेस्ट्रॉल का स्तर सुधारकर दिल की हिफाजत नहीं की जा सकती। यह दिल की सेहत बनाये रखने के कई उपायों में से सिर्फ एक उपाय है। दिल की पूरी ...

Read More

सांझ नहीं, नया सवेरा

सांझ नहीं, नया सवेरा

रिटायरमेंट  रुके नहीं  बढ़े जिंदगी कुछ समय पहले की बात है कि जैसे ही मैं बैंक जाने के लिए तैयार होकर घर से निकली एक पड़ोसन ने पूछा, ‘आप तो रिटायर हो चुकी हैं न? अब कहां जा रही हो तैयार होकर? क्या कोई दूसरी नौकरी पकड़ ली है?’ उसने ...

Read More

मुंहासों से बचायें ये उपाय

मुंहासों से बचायें ये उपाय

ये बिन बुलाए आते हैं और लंबे समय तक रहते हैं। एक्ने यानी मुंहासे ऐसी समस्या है, जिसका सामना ज्यादातर लोगों को करना पड़ता है। संतुलित आहार और पर्याप्त पानी पीकर मुंहासों से बचा जा सकता है। त्वचा विशेषज्ञ चिरंजीव छाबड़ा ने बताये हैं मुंहासों को दूर करने के कुछ ...

Read More

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

तुम्हारे विचारों की कोई जड़ें नहीं हैं, उनका कोई घर नहीं है; वे बादलों की तरह भटकते हैं। इसलिए तुम्हें उनके साथ संघर्ष नहीं करना है, तुम्हें उनके विपरीत नहीं होना है, तुम्हें उन्हें रोकने का भी प्रयास नहीं करना है। यह तुम्हारे भीतर गहरी समझ बन जानी चाहिए, क्योंकि ...

Read More

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

भोजन को मसालेदार बनाने के लिए मशहूर भारतीय पीपली का उपयोग जल्द ही कैंसर के इलाज की प्रभावी दवा तैयार करने में किया जा सकता है। बायोलॉजिकल केमिस्ट्री जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार पीपली में एक ऐसा रसायन पाया जाता है जो शरीर को उस एंजाइम बनाने से ...

Read More


नन्ही आंखों की नींद उड़ा रही ‘नीली रोशनी’

Posted On November - 30 - 2016 Comments Off on नन्ही आंखों की नींद उड़ा रही ‘नीली रोशनी’
डॉ. निधि चोपड़ा,  नेत्र विशेषज्ञ, कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल, गुरुग्राम 15 साल का अमरदीप बिलकुल स्वस्थ था, लेकिन पिछले कुछ दिनों से उसे सिर दर्द रहने लगा।  मां को लगा कि उसकी नींद पूरी नहीं हो पा रही है। वो देर रात तक मोबाइल फोन या टैब पर टकटकी जो लगाये रहता है। डॉक्टर को दिखाया तो पला चला कि सिर दर्द की वजह है वो नीली रोशनी, जो मोबाइल फोन और टैब वगैरह की स्क्रीन से निकलती है। सूरज 

इन सांसों को चहकने दो

Posted On November - 30 - 2016 Comments Off on इन सांसों को चहकने दो
कहते हैं सांस ही जीवन है। जब तक तन-मन में सांसें हैं, तब तक जिंदगी चलती है। हमारा अस्तित्व सांसों के साथ ही चहकता है, लहकता है। सहज, संगत रूप में सांस लेना वरदान है। जिस तरह हर दिन नया होता है, उसी तरह हर दिन सांसें भी नयी होती हैं। अफसोस इस बात का है कि अधिकतर लोग तनाव और समस्याओं के कारण अपनी सांसों को बोझिल बना लेते हैं और अकसर कहते नजर आते हैं कि उनका दम घुटता है। यह दम घुटना सांसों को पीड़ादायक 

कैंसर के जख्मों पर मरहम बनेगा शहद

Posted On November - 30 - 2016 Comments Off on कैंसर के जख्मों पर मरहम बनेगा शहद
हेल्थ कैप्सूल खांसी-जुकाम ही नहीं, शहद कैंसर तक के इलाज में मदद कर सकता है। आईआईटी खड़गपुर के एक दल ने कई साल के शोध के बाद शहद में छिपा ऐसा फार्मूला खोज निकाला है जो मुंह के कैंसर के जख्मों को भर सकता है। संस्थान के केमिकल इंजीनियरों, बायोटेक्नोलॉजिस्ट और डॉक्टरों ने नैनो टेक्नोलॉजी के जरिये शहद से एक खास तरह का पैच तैयार किया है। शोधकर्ताओं का दावा है कि मुंह के कैंसर की सर्जरी 

शादियों के इस मौसम में ऐसे निखारें त्वचा

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on शादियों के इस मौसम में ऐसे निखारें त्वचा
शादियों के इस मौसम में खिली-खिली त्वचा पाना चाहते हैं तो प्रकृति से मदद मिल सकती है। निखार लाने के लिए बाहरी और अंदरूनी तौर पर त्वचा को खास देखभाल की जरूरत होती है। ....

वजन कम करने से घटेगा कैंसर का खतरा

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on वजन कम करने से घटेगा कैंसर का खतरा
भाग-दौड़ भरी अव्यवस्थित जिंदगी में मोटापा कई रोगों के एक प्रमुख कारक के तौर पर उभरा है। एक नये अध्ययन की मानें तो अधिक वजन से रक्त विकार का खतरा बढ़ जाता है, जो आगे जाकर कैंसर का रूप ले सकता है। ....

ठंड में धूप-पानी से लीजिये सेहत की खुराक

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on ठंड में धूप-पानी से लीजिये सेहत की खुराक
मौसम करवट ले चुका है। रातें ठंडी हो चुकी हैं। धूप भी थोड़ी सुहाने लगी है। यह वक्त है विटामिन-डी की प्राकृतिक खुराक लेने का। धूप से मिलने वाली यह खुराक न सिर्फ हमारी हड्डियों के लिए जरूरी है, बल्कि हमें अवसाद और हार्ट अटैक तक से बचा सकती है। ....

ऐसे बढ़ायें जिगर की जान

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on ऐसे बढ़ायें जिगर की जान
हम जो भी खाते-पीते हैं, उसका अच्छा-बुरा असर सीधे लिवर यानी जिगर पर पड़ता है। लिवर का काम खाने को सिर्फ पचाने तक सीमित नहीं है। यह शरीर की करीब 500 गतिविधियों में शामिल रहता है। ....

…पर असल तो छोड़ दिया

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on …पर असल तो छोड़ दिया
जो चीज भी बदलती हो, वह माया है, वह संसार है, वह असत्य है, सपना है। और जो चीज सदा शाश्वत रहती हो और कभी न बदलती हो, वही परमात्मा है। तुम इस सूत्र को अगर ठीक से पकड़ लो, तो आज नहीं तो कल, तुम अपने भीतर उसको खोज लोगे, जो कभी नहीं बदलता है। ....

नकली शान के पीछे दौड़े

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on नकली शान के पीछे दौड़े
लोग प्रतिष्ठा दें, इसके लिए तुम जीवन गंवा देते हो। लोगों की प्रतिष्ठा का क्या अर्थ है? कौन हैं ये लोग जिनकी प्रतिष्ठा के लिए तुम दीवाने हो? ये वे ही लोग हैं जो तुम्हारी प्रतिष्ठा के लिए दीवाने हैं। ....

झूठी दौलत को पकड़ा…

Posted On November - 23 - 2016 Comments Off on झूठी दौलत को पकड़ा…
एक आदमी नोट इकट्ठे करता जा रहा है। वह कभी नहीं सोचता कि नोट सिर्फ एक मान्यता है। कल सरकार बदल जाए, कानून बदल जाए, सरकार तय कर ले कि ये नोट रद्द हुए, काम के न रहे, तो कागज हो गए। ....

दर्द भी दूर करता है एलोवेरा

Posted On November - 16 - 2016 Comments Off on दर्द भी दूर करता है एलोवेरा
एलोवेरा कई गुणों से भरा है। यह शरीर को शुद्ध करता है। कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। अम्ल बनने से रोकता है। एलोवेरा के पत्ते को काट कर उसका जेल चेहरे पर लगाने से कील, मुहांसे, झाइयां, सनबर्न नहीं होते, और यदि हैं तो समाप्त होने लगते हैं। ....

मित्रता की सीमा है, मैत्री असीम

Posted On November - 16 - 2016 Comments Off on मित्रता की सीमा है, मैत्री असीम
मित्रता संबंध है। तुम कुछ लोगों के साथ संबंध बना सकते हो। मैत्री गुणवत्ता है न कि संबंध। इसका किसी दूसरे से कुछ लेना-देना नहीं है; मौलिक रूप से यह तुम्हारी आंतरिक योग्यता है। जब तुम अकेले हो तब भी मैत्रीपूर्ण हो सकते हो। ....

उम्र 5 से कम तो टीवी-मोबाइल बस आधा घंटा

Posted On November - 16 - 2016 Comments Off on उम्र 5 से कम तो टीवी-मोबाइल बस आधा घंटा
कभी टीवी, तो कभी कम्प्यूटर और मोबाइल फोन। बड़ों की तरह बच्चे भी इनसे घंटों चिपके रहते हैं। लेकिन अमेरिका की बाल चिकित्सा से जुड़ी एकेडमी ने राय दी है कि 5 साल से कम उम्र के बच्चों को टीवी या मोबाइल फोन के सामने दिन में आधे घंटे से ज्यादा नहीं बिताना चाहिये। ....

डाइट : बातें हैं बातों का क्या

Posted On November - 16 - 2016 Comments Off on डाइट : बातें हैं बातों का क्या
यह गलत धारणा है कि मजबूत मांसपेशियों के लिए ज्यादा प्रोटीन लेना चाहिये। सच्चाई ये है कि बहुत ज्यादा प्रोटीन अनावश्यक होता है और नुकसान भी पहुंचा सकता है। ....

बचाए रखें बचपना

Posted On November - 16 - 2016 Comments Off on बचाए रखें बचपना
आमतौर पर देखने में आता है कि वे लोग मन के अनमनेपन और तन की थकान से हमेशा दूर रहते हैं जिनका बचपना बड़े होकर भी बना रहता है। जो जिंदगी की भागमभाग में भी बचपन वाली थोड़ी सी निश्छलता और बेफिक्री बचाये रहते हैं, वे खुद को मानसिक और शारीरिक तकलीफों से भी दूर रखते हैं। ....

इस मौसम में कई रोगों से बचाये गिलोय

Posted On November - 9 - 2016 Comments Off on इस मौसम में कई रोगों से बचाये गिलोय
वायरल और डेंगू जैसी बीमारियों के इस ‘मौसम’ में गिलोय बेहद उपयोगी है। आयुर्वेद में इसे अमृतस्वरूप माना गया है, इसलिए इसे अमृता भी कहा जाता है। एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर गिलोय रोगों से लड़ने की हमारी ताकत बढ़ाता है। यह शरीर में फ्री रेडिकल्स को कम करके हमारी कोशिकाओं को स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसके सेवन से खून में प्लेटलेट्स बढ़ते हैं और डेंगू, चिकनगुनिया जैसे बुखार का असर कम होता 
Page 3 of 3312345678910...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.