करदाताओं को धमकी न दें : सीबीडीटी !    भूमि अधिग्रहण के बाद मुआवजा अपील निरर्थक !    माल्या को लाने की कोशिशें तेज हुईं !    रिलायंस जियो का अब 3 नॉट 3 ऑफर !    ऋतिक का किस्सा अब खत्म : कंगना !    रसोइया नहीं जनाब इन्हें शेफ कहिये !    इलाहाबाद में राहुल-अखिलेश के लिए तैयार मंच गिरा !    93 के मुगाबे बोले, अगले साल भी लड़ूंगा चुनाव !    जंगली जानवर के हमले से गांवों में दहशत !    नूंह में दीवार तोड़ महिलाओं ने कर लिया दुकान पर कब्जा !    

तन-मन › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
तनाव का कारण भीतर है, बाहर नहीं

तनाव का कारण भीतर है, बाहर नहीं

प्रतिदिन सामान्य क्रियाओं के बारे में सजग रहना सीखो, और जब अपनी सामान्य क्रियाएं कर रहे हो तब रिलैक्स रहो। तनाव लेने की कोई जरूरत नहीं है। जब तुम फर्श धो रहे हो, तब तनावपूर्ण होने की क्या जरूरत? या जब तुम खाना बना रहे हो तब तनावपूर्ण होने की ...

Read More

जीवन में ‘जहर’ घोल रहीं बनावटी सफेद चीजें

जीवन में ‘जहर’ घोल रहीं बनावटी सफेद चीजें

डायबिटीज यानी मधुमेह महामारी की तरह फैल रहा है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) का मानना है कि इस बीमारी के प्रमुख कारणों में हमारे रोजमर्रा के भोजन में सफेद चीनी, मैदा और चावल जैसी खाद्य वस्तुओं की अधिकता है। आईएमए के अध्यक्ष डॉक्टर केके अग्रवाल का कहना है, ‘रिफाइंड चीनी ...

Read More

दिल की दिक्क त सिर्फ कोलेस्ट्रॉल नहीं

दिल की दिक्क त सिर्फ कोलेस्ट्रॉल नहीं

अंजलि मुखर्जी न्यूट्रीशियनिस्ट दिल के रोगों से बचने के लिए सबसे पहले कोलेस्ट्रॉल पर ध्यान देने की सलाह दी जाती है। लेकिन, सिर्फ कोलेस्ट्रॉल का स्तर सुधारकर दिल की हिफाजत नहीं की जा सकती। यह दिल की सेहत बनाये रखने के कई उपायों में से सिर्फ एक उपाय है। दिल की पूरी ...

Read More

सांझ नहीं, नया सवेरा

सांझ नहीं, नया सवेरा

रिटायरमेंट  रुके नहीं  बढ़े जिंदगी कुछ समय पहले की बात है कि जैसे ही मैं बैंक जाने के लिए तैयार होकर घर से निकली एक पड़ोसन ने पूछा, ‘आप तो रिटायर हो चुकी हैं न? अब कहां जा रही हो तैयार होकर? क्या कोई दूसरी नौकरी पकड़ ली है?’ उसने ...

Read More

मुंहासों से बचायें ये उपाय

मुंहासों से बचायें ये उपाय

ये बिन बुलाए आते हैं और लंबे समय तक रहते हैं। एक्ने यानी मुंहासे ऐसी समस्या है, जिसका सामना ज्यादातर लोगों को करना पड़ता है। संतुलित आहार और पर्याप्त पानी पीकर मुंहासों से बचा जा सकता है। त्वचा विशेषज्ञ चिरंजीव छाबड़ा ने बताये हैं मुंहासों को दूर करने के कुछ ...

Read More

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

तुम्हारे विचारों की कोई जड़ें नहीं हैं, उनका कोई घर नहीं है; वे बादलों की तरह भटकते हैं। इसलिए तुम्हें उनके साथ संघर्ष नहीं करना है, तुम्हें उनके विपरीत नहीं होना है, तुम्हें उन्हें रोकने का भी प्रयास नहीं करना है। यह तुम्हारे भीतर गहरी समझ बन जानी चाहिए, क्योंकि ...

Read More

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

भोजन को मसालेदार बनाने के लिए मशहूर भारतीय पीपली का उपयोग जल्द ही कैंसर के इलाज की प्रभावी दवा तैयार करने में किया जा सकता है। बायोलॉजिकल केमिस्ट्री जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार पीपली में एक ऐसा रसायन पाया जाता है जो शरीर को उस एंजाइम बनाने से ...

Read More


ध्यान : एक गुण है, कोई काम नहीं

Posted On July - 27 - 2016 Comments Off on ध्यान : एक गुण है, कोई काम नहीं
आप ध्यान को मेडिटेशन समझते हैं तो यह कोई ऐसी चीज नहीं है जिसे आप कर सकते हैं। जिन लोगों ने भी ध्यान करने की कोशिश की है, उनमें से ज्यादातर अंत में इस नतीजे पर पहुंचते हैं कि इसे करना या तो बेहद मुश्किल है या फिर असंभव। और इसकी वजह यह है कि उसे आप करने की कोशिश कर रहे हैं। आप मेडिटेशन नहीं कर सकते, लेकिन आप मेडिटेटिव हो सकते हैं। ध्यान एक खास तरह का गुण है, कोई काम नहीं। अगर आप अपने तन, मन, ऊर्जा 

जूस नहीं, पानी के साथ ही लें दवा

Posted On July - 27 - 2016 Comments Off on जूस नहीं, पानी के साथ ही लें दवा
 हेल्थ कैप्सूल यदि आप पानी के बजाय जूस के साथ दवा लेते हैं तो ऐसा न करें। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि जूस के साथ दवा लेने से उसका असर कम हो जाता है। खासकर हाइपरटेंशन या दिल की बीमारियों की दवा पानी के साथ ही लेनी चाहिये। आईएमए ने यूनिवर्सिटी ऑफ वेस्टर्न ओंटारियो, कनाडा के एक अध्ययन का हवाला देते हुए कहा कि सेब,  संतरे और अंगूरों के जूस कुछ दवाओं की 

छिपकर वार करता है हेपेटाइटिस

Posted On July - 27 - 2016 Comments Off on छिपकर वार करता है हेपेटाइटिस
डॉ. एके मुखोपाध्याय, डीआईजी, कम्पोजिट हॉस्पिटल, आईटीबीपी, चंडीगढ़ दुनियाभर में करीब 40 करोड़ लोग हेपेटाइटिस ‘बी’ और ‘सी’ से संक्रमित हैं। यह आंकड़ा एचआईवी के साथ जी रहे लोगों से 10 गुना ज्यादा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक हेपेटाइटिस बी और सी से संक्रमित 95 फीसदी लोग यह जानते तक नहीं कि उन्हें यह वायरस घेर चुका है। यह वायरस छिपे रहकर हमला करता है। आज वर्ल्ड 

जीवन का आधार है व्यवहार

Posted On July - 27 - 2016 Comments Off on जीवन का आधार है व्यवहार
केवल तिवारी ‘जिंदगी जिंदादिली का नाम है, मुर्दा दिल क्या खाक जीते हैं।’ ‘जो जिंदा है, वही लचीला होता है, मुर्दे तो वरना अकड़ जाते हैं।’ इंसान के लचीलेपन यानी ‘फ्लैक्सिबिटी’ को लेकर कितने सारे जुमले गढ़े गये। कितनी बातें की गयीं और की जा रही हैं। लचीलेपन को कोई व्यावहारिक यानी प्रैक्टिकल होने के बराबर बताता है तो कोई इसे कमजोरी से आंकता है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या हमें लचीला 

अपनी कीमत समझें, खुद में निवेश करें

Posted On July - 20 - 2016 Comments Off on अपनी कीमत समझें, खुद में निवेश करें
कल्पना कीजिये की चिराग से निकला जिन आपसे कहे कि दुनिया की कोई भी एक कार मांग लो। शर्त यह है कि इसके बाद कभी भी आपके पास दूसरी कोई कार नहीं होगी। न खुद कार खरीद सकेंगे, न किसी दूसरे से ले पाएंगे। बस इसी कार से काम चलाना होगा। आप क्या करेंगे? यदि कार ले लेते हैं तो जाहिर है इसे बड़ी हिफाज़त से रखेंगे। जिंदगीभर यही कार चलानी है तो उसके रखरखाव का भी पूरा ध्यान रखेंगे। उसे हमेशा नयी जैसी रखने का 

इनसे सीखिये जीतना

Posted On July - 20 - 2016 Comments Off on इनसे सीखिये जीतना
लोग कहते थे पैर के बिना क्या करोगी  एवरेस्ट फतह कर दिखाया अरुणिमा सिन्हा ने जब दुर्घटना के बाद एवरेस्ट पर चढ़ने की बात कही तो निंदकों ने उन्हें मानसिक रूप से बीमार तक कह डाला था। उन्होंने निंदा की चिंता न करते हुए इस बात की चिंता की कि वे कैसे एवरेस्ट के शिखर तक पहुंच सकती हैं। उन्होंने एवरेस्ट जीत कर दिखाया। वे निंदा की चिंता से दूर अपने अन्य लक्ष्यों को पूरा करने में जुटी हैं। जिस 

कुछ तो लोग कहेंगे…

Posted On July - 20 - 2016 Comments Off on कुछ तो लोग कहेंगे…
ज़ी वन में सभी सफल होना चाहते हैं। हर किसी के सपने, इच्छाएं, शौक होते हैं। अकसर आकांक्षाएं और शौक ही हमारा भविष्य और सफलता तय करते हैं। कई बार किसी के शौक उसके व्यक्तित्व के विपरीत होते हैं। मसलन साधारण रूप-रंग के व्यक्ति मॉडलिंग व फिल्म जगत में नाम कमाने की इच्छा रखते हैं। लेकिन कई यह सोचकर इस बात को अपने दिल के कोने में दबा देते हैं कि उनकी इस इच्छा को देखकर लोग उनके बारे में क्या 

तंदुरुस्ती के लिए क्या चाहे त्वचा

Posted On July - 20 - 2016 Comments Off on तंदुरुस्ती के लिए क्या चाहे त्वचा
विटामिन ए यह झुर्रियां कम करने में मदद करता है। धब्बे, झाइयां, जलन-सूजन दूर करता है। त्वचा को मुलायम बनाता है। प्राकृतिक स्रोत : विटामिन ए फैट सॉल्यूबल यानी वसा में घुलनशील विटामिन है। यह शकरकंदी, गाजर, गहरे रंग की पत्तेदार सब्जियों, खुबानी, खरबूजे, शिमला मिर्च और मछली में भरपूर होता है। बाहरी स्रोत : विटामिन ए वाली कई क्रीम और लोशन उपलब्ध हैं। ये रेटिनॉल नाम से होते हैं। विटामिन 

बढ़ती उम्र का असर घटायें ये आसन

Posted On July - 20 - 2016 Comments Off on बढ़ती उम्र का असर घटायें ये आसन
त्वचा पर झुर्रियां, बालों पर बढ़ती सफेदी और कमजोर पड़ते जोड़। ये लक्षण हैं बढ़ती उम्र के असर के। इसमें कोई दोराय नहीं कि उम्र के साथ हमारे शरीर में लगातार बदलाव आते हैं और इसी क्रम में बुढ़ापा भी आता है। भले ही इसे पूरी तरह रोक नहीं सकते, लेकिन इसके आने की गति जरूर थाम सकते हैं। शरीर पर इसके प्रभाव को कम कर सकते हैं। इसे समय से पहले आने से रोक सकते हैं। आयुर्वेद के मुताबिक शरीर में ‘शुक्र’ 

खुश रहने के लिए खाइये फल-सब्जियां

Posted On July - 20 - 2016 Comments Off on खुश रहने के लिए खाइये फल-सब्जियां
हेल्थ कैप्सूल यह बात अकसर कही जाती है कि फल-सब्जियां हमारी सेहत के लिए उत्तम हैं। इनसे हमें कई तरह के पोषक तत्व मिलते हैं जो बीमारियों को दूर रखते हैं। अब एक नये अध्ययन में पाया गया है कि फल-सब्जियां खाने से खुशी का अहसास भी बढ़ता है। यूके की यूनिवर्सिटी ऑफ वारविक में किये गये इस अध्ययन के नतीजों में कहा गया है कि फल-सब्जियां जितनी तेजी से सेहत सुधारती हैं, उससे भी जल्दी खुशी का अहसास 

अवसर

Posted On July - 6 - 2016 Comments Off on अवसर
एक बार एक ग्राहक चित्रों की दुकान पर गया। उसने वहां अजीब से चित्र देखे। पहले चित्र में चेहरा पूरी तरह बालो से ढंका हुआ था और पैरों में पंख थे। दूसरे चित्र में सिर पीछे से गंजा था। ग्राहक ने पूछा- यह चित्र किसका है? दुकानदार ने कहा- अवसर का। इसका चेहरा बालों से ढंका क्यों है? दुकानदार ने कहा -क्योंकि अकसर जब अवसर ....

हेल्थ कैप्सूल

Posted On July - 6 - 2016 Comments Off on हेल्थ कैप्सूल
दिनभर में औसतन 7 घंटे से ज्यादा या कम सोने से पुरुषों में डायबिटीज होने का खतरा बढ़ सकता है। यह दावा नीदरलैंड की वीयू यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने किया है। उन्होंने शोध में पाया है कि 7 घंटे की सामान्य नींद लेने वालों के मुकाबले इससे कम या ज्यादा सोने वाले पुरुषों के शरीर में शुगर को प्रोसेस करने की क्षमता कमजोर हो जाती ....

मुद्रा जो नशा छुड़ाये और खून बढ़ाये

Posted On July - 6 - 2016 Comments Off on मुद्रा जो नशा छुड़ाये और खून बढ़ाये
ऐसी कई मुद्राएं हैं जो न सिर्फ तंबाकू, बल्कि शराब की लत से मुक्त करने में भी कारगर हैं। इन मुद्राओं में भी सबसे उपयोगी है-ज्ञान मुद्रा। यह शिरोमणि मुद्रा है और कई लाभ देती है। आप संतों की तस्वीरें अकसर इसी मुद्रा में पाएंगे। मां सरस्वती की प्रतिमा भी इसी मुद्रा में होती है, इसलिए इसे सरस्वती मुद्रा भी कहते हैं। ....

जब सीने की जलन सताये

Posted On July - 6 - 2016 Comments Off on जब सीने की जलन सताये
सीने की जलन को लोग अकसर हल्के में ले लेते हैं। जलन हुई तो एंटासिड या कोई चूर्ण ले लिया। राहत भी मिल गयी। लेकिन यह समस्या बार-बार सताने लगे तो रातों की नींद उड़ा देती है। पेट से गले तक को ‘सजा’ झेलनी पड़ती है। इस समस्या को ‘हार्ट बर्न’ भी कहते हैं। यह किसी भी उम्र में घेर सकती है। इससे बचने के ....

कदमों की मेहनत में मन की सेहत

Posted On July - 6 - 2016 Comments Off on कदमों की मेहनत में मन की सेहत
मौजूदा दौर में हमारा लाइफस्टाइल ही कुछ ऐसा हो चला है कि कम उम्र में ही कई स्वास्थ्य समस्याएं घेरने लगी हैं। जिंदगी की भागमभाग में सेहत की संभाल कहीं पीछे छूट गयी है। ऐसे में निर्धारित दिनचर्या के अनुसार कसरत करना और खानपान का संयम रखना सबके लिए मुमकिन नहीं। कई सारी जिम्मेदारियां हैं जो ऐसे तयशुदा नियमों के आड़े आती हैं। नतीजा यह ....

मानसून की कर लें तैयारी

Posted On June - 29 - 2016 Comments Off on मानसून की कर लें तैयारी
चिलचिलाती धूप के बाद मानसून जहां राहत लेकर आएगा, वहीं हमारी त्वचा और बालों के लिए कई चुनौतियां भी लाएगा। नमी भरा यह मौसम बालों से उनकी सेहत छीनने लगता है। चिपचिपाहट के कारण बाल बेजान-से होने लगते हैं। पसीने के कारण खारिश और बाल झड़ने की समस्या सताने लगती है। ....
Page 7 of 33« First...3456789101112...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय