प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री सार्वजनिक करने पर रोक !    ट्रंप ने टीपीपी संधि खत्म करने का दिया आदेश !    वार्नर को फिर आस्ट्रेलिया क्रिकेट का शीर्ष पुरस्कार !    सेरेना, नडाल का विजय अभियान जारी !    अभय ने लिखा मोदी को पत्र, मुलाकात का समय मांगा !    चुनाव से पहले सीएम उम्मीदवार घोषित होंगे कैप्टन : अानंद शर्मा !    युवती को अगवा कर होटल में किया रेप !    सुप्रीमकोर्ट ने सीएजी को दिये पुष्टि के निर्देश !    मॉरीशस में प्रधानमंत्री ने बेटे को सौंपी सत्ता !    ट्रेन हादसे की जांच को पहुंची एनआईए !    

तन-मन › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
मुंहासों से बचायें ये उपाय

मुंहासों से बचायें ये उपाय

ये बिन बुलाए आते हैं और लंबे समय तक रहते हैं। एक्ने यानी मुंहासे ऐसी समस्या है, जिसका सामना ज्यादातर लोगों को करना पड़ता है। संतुलित आहार और पर्याप्त पानी पीकर मुंहासों से बचा जा सकता है। त्वचा विशेषज्ञ चिरंजीव छाबड़ा ने बताये हैं मुंहासों को दूर करने के कुछ ...

Read More

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

विचारों को रोकने का प्रयास करो ही नहीं

तुम्हारे विचारों की कोई जड़ें नहीं हैं, उनका कोई घर नहीं है; वे बादलों की तरह भटकते हैं। इसलिए तुम्हें उनके साथ संघर्ष नहीं करना है, तुम्हें उनके विपरीत नहीं होना है, तुम्हें उन्हें रोकने का भी प्रयास नहीं करना है। यह तुम्हारे भीतर गहरी समझ बन जानी चाहिए, क्योंकि ...

Read More

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

कैंसर के इलाज में काम आएगी पीपली

भोजन को मसालेदार बनाने के लिए मशहूर भारतीय पीपली का उपयोग जल्द ही कैंसर के इलाज की प्रभावी दवा तैयार करने में किया जा सकता है। बायोलॉजिकल केमिस्ट्री जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार पीपली में एक ऐसा रसायन पाया जाता है जो शरीर को उस एंजाइम बनाने से ...

Read More

जाड़े में जोड़ों को चुस्त, दिल को दुरुस्त रखे अलसी

जाड़े में जोड़ों को चुस्त, दिल को दुरुस्त रखे अलसी

सर्दी के इन दिनों में अलसी खाने से जहां जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है, वहीं कई अन्य फायदे भी होते हैं। आहार विशेषज्ञ अंजलि मुखर्जी के मुताबिक यदि गठिया की दिक्कत हो तो दिन में 2 बार अलसी के बीज व पाउडर लेने से जोड़ों में सूजन व ...

Read More

बढ़ती सर्दी में सेहत बढ़े, वजन नहीं

बढ़ती सर्दी में सेहत बढ़े, वजन नहीं

मृदुला वत्स, पीजीआई चंडीगढ़ के डाइटेटिक्स विभाग की पूर्व एचओडी मेटाबॉलिज्म, यानी हमारे पाचन से जुड़ी प्रक्रिया। यह प्रक्रिया सर्दियों में अकसर मंद पड़ जाती है। इसीलिए इस मौसम में कई लोगों का वजन बढ़ने लगता है। लेकिन, मेटाबॉलिज्म के मंद पड़ने का कारण ठंड नहीं, बल्कि हमारे खान-पान और जीवनशैली ...

Read More

उल्लास से समेटिये उजाला

उल्लास से समेटिये उजाला

केवल तिवारी सूर्य ऊर्जा का स्रोत है। ऊर्जा से आनंद है। आनंद है तो जीवन में उजाला है। उजाला यानी उल्लास। आत्मसात करने के लिए। दूसरों को रोशन करने के लिए। प्रार्थना से। खानपान से। यही है माघ महीने का संदेश। हिंदू पंचांग का 11वां महीना। एक खास महीना। उत्सव का ...

Read More

कैल्शियम कितना जरूरी!

कैल्शियम कितना जरूरी!

हमारे शरीर में कुल कैल्शियम का 99 फीसदी हड्डियों और दांतों में जमा होता है। बाकी एक फीसदी खून, मांसपेशियों और कोशिकाओं में होता है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के मुताबिक... 600 मिली ग्राम कैल्शियम हर रोज जरूरी होता है 1 से 9 साल की उम्र के बच्चों के लिए 10 ...

Read More


लगाओ सेहत की डुबकी

Posted On May - 18 - 2016 Comments Off on लगाओ सेहत की डुबकी
गर्मियों की तेज धूप में जब जॉगिंग करना मुश्किल लगे, तब सेहत के लिए स्विमिंग यानी तैरने से बेहतर कुछ नहीं। इससे शरीर की ताकत बढ़ती है। दिल और फेफड़ों की सेहत सुधरती है। कैलरी खर्च होती हैं। ....

बुद्ध बन सकते हैं आप भी

Posted On May - 18 - 2016 Comments Off on बुद्ध बन सकते हैं आप भी
आध्यात्मिक रास्ते पर विकास करने वाला व्यक्ति गौतम को अनदेखा नहीं कर सकता क्योंकि उनकी उपस्थिति बहुत असरदार बन गयी है। उनके अपने जीवन में चालीस हजार भिक्षु बाहर जाकर उनके ज्ञान और आध्यात्मिक प्रक्रिया को फैला रहे थे। ....

उड़ान

Posted On May - 11 - 2016 Comments Off on उड़ान
एक राजा को दूसरे देश से दो बेहद दुर्लभ पक्षियों का तोहफा भेजा गया। उनकी खूबसूरती से राजा बड़ा प्रभावित हुआ। उसने महल में पक्षियों की देखरेख करने वाले को पक्षी सौंपे और कहा कि इन्हें प्रशिक्षण दो। ....

पंचामृत

Posted On May - 11 - 2016 Comments Off on पंचामृत
1. प्रभावित जगह पर शहद लगाने से राहत मिलती है। यह जहर को फैलने से रोकता है। ....

ऑफिस हो या मॉल, कहीं भी अपना सकते हैं फिटनेस के ये फंडे

Posted On May - 11 - 2016 Comments Off on ऑफिस हो या मॉल, कहीं भी अपना सकते हैं फिटनेस के ये फंडे
आज की व्यस्त जिंदगी में अपने शरीर के अलावा बाकी हर काम के लिए समय होता है। नतीजा होता है मोटापा और हाई बीपी जैसी दिक्कतें। इसलिए व्यस्त जिदंगी में ऐसे तरीके ढूंढ़ने होंगे, जिनकी मदद से आपको अलग से समय न निकालना पड़े और आप फिट भी रहें। यानी रूटीन की लाइफस्टाइल में फिट रहने के फंडे। आइए जानें यह कैसे हो सकता है... ....

हेल्थ कैप्सूल

Posted On May - 11 - 2016 Comments Off on हेल्थ कैप्सूल
योग करने से न सिर्फ तनाव, अवसाद और थकान कम करने में मदद मिलती है, बल्कि यह कैंसर के मरीजों में ‘नैचुरल किलर सेल’ की संख्या भी बढ़ाता है। यानी योग करने से शरीर में ऐसी कोशिकाएं बनती हैं जो कैंसर सेल्स को खत्म करती हैं। ....

दिल सहेगा तो प्रेशर बढ़ेगा

Posted On May - 11 - 2016 Comments Off on दिल सहेगा तो प्रेशर बढ़ेगा
देश में हर 3 में से एक व्यक्ति हाइपरटेंशन यानी हाई ब्ल्ड प्रेशर से पीड़ित है। ज्यादातर को तो लंबे समय तक इसका पता तक नहीं चल पाता। इस रोग के कारण कई हैं- ज्यादा तनाव, मोटापा, मधुमेह, धूम्रपान, शराब, असक्रिय जीवनशैली, ज्यादा नमक, गलत खानपान। कैल्शियम, पोटाशियम, मैग्नीशियम और विटामिन-डी की कमी से भी यह बीमारी घेर सकती है। इससे बचने के उपाय हमारे ....

तन की चुस्ती के लिए मन से करें जतन

Posted On May - 11 - 2016 Comments Off on तन की चुस्ती के लिए मन से करें जतन
आप सुबह उठकर टहलने या दौड़ लगाने जाते हैं। आप एक्सरसाइज करते हैं। आप पर्याप्त पानी पीते हैं। आप योग करते हैं। हंसते हैं। क्या यह सब आप तन के अलावा मन से भी करते हैं। जी हां! मन से। विशेषज्ञों और शोधों के हवाले से यह बात हम आपसे इसलिए कह रहे हैं कि जिस काम को करने के लिए आप तन के अलावा ....

गर्मी का गुस्सा ऐसे करें ठंडा

Posted On May - 4 - 2016 Comments Off on गर्मी का गुस्सा ऐसे करें ठंडा
शरीर को पानी की कमी से बचाने के लिए लिए दिन में कम से कम 2.5 से 3 लीटर यानी 12 से 15 गिलास पानी और जूस पियें। सादा पानी पीना बेहतर है, चाहें तो इसमें नीबू, जलजीरा पाउडर और पुदीने का रस मिला सकते हैं। कैफीन या शक्कर वाले कोल्ड ड्रिंक और शराब से परहेज रखें। ....

सुख-दुख का स्वरूप मन के अनुरूप

Posted On May - 4 - 2016 Comments Off on सुख-दुख का स्वरूप मन के अनुरूप
एक ही घटना किसी को सुखद लगती है तो किसी को दुखद। आखिर ऐसा क्यों होता है? सुख या दुख न तो भौतिक शरीर की अवस्था है, न लाभ-हानि की। न दुर्घटना से इसका संबंध है और न संबंधों की स्थिति से। सुख या दुख तो इन घटनाओं पर मन की प्रतिक्रिया है। मन गलती से भी अच्छा मान बैठे तो सुख अन्यथा दुख। शरीर ....

दिमाग को 7 साल जवां रखता है ध्यान

Posted On May - 4 - 2016 Comments Off on दिमाग को 7 साल जवां रखता है ध्यान
बढ़ी उम्र में भी दिमाग को जवान बनाए रखना चाहते हैं तो ध्यान लगाइए। इसे अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाइए। ध्यान न सिर्फ अध्यातम से जुड़ा है बल्कि विज्ञान से भी जुड़ा है। इसके नियमित अभ्यास से शरीर को फायदा होता है, यह बात विज्ञान ने भी स्वीकार की है। इससे न सिर्फ मन को शांति मिलती है, बल्कि हमारा दिमाग भी लंबे समय तक ‘जवान’ बना रह सकता है। एक नये शोध में साबित हुआ है कि नियमित तौर पर ध्यान 

हेल्थ कैप्सूल

Posted On May - 4 - 2016 Comments Off on हेल्थ कैप्सूल
अपने घर के आसपास हरियाली को बढ़ावा दीजिए। यह हरियाली आपकी सेहत सुधारेगी। एक शोध के नतीजों में कहा गया है कि किसी हरे-भरे पार्क में 5 से 10 मिनट की सैर शरीर में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ाकर आपको मधुमेह और हाई बीपी जैसे रोगों से बचा सकती है। इस नतीजे तक पहुंचने के लिए अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी के शोधकर्ताओं ने करीब 2.5 ....

पंचामृत

Posted On May - 4 - 2016 Comments Off on पंचामृत
शीतली प्राणायाम करने से शरीर पर गर्मी का प्रभाव कम होता है। इसे करने से नींद अच्छी आती है। प्यास कम लगती है। भूख नियंत्रित होती है। ....

जीवन मंत्र

Posted On May - 4 - 2016 Comments Off on जीवन मंत्र
मान लो फिल्मों में केवल हीरो ही हो और कोई विलेन ना हो! जब कई रोचक घटनाएं शामिल होती हैं तभी फिल्म मजेदार होती है। फिल्म में केवल हीरो-हीरोइन ही होते, शादी करते और बस फिर एकसाथ रहते, ऐसी फिल्म होती तो क्या पसंद करते? यह जीवन भी तो एक ड्रामा है, एक खेल है, जिसमें सभी तरह की बातें होती रहती हैं। यह जगत ....

बूंद-बूंद सहेजें सुख

Posted On April - 27 - 2016 Comments Off on बूंद-बूंद सहेजें सुख
आज समाज दुख से भरा हुआ है, उसकी ईंट ही दुख की है, उसकी बुनियाद ही दुख की है। जब समाज दुखी होगा और जीवन दुखी होगा तो आदमी क्रोधी होगा, दुखी आदमी क्रोध करेगा। यदि नये समाज को जन्म देना हो तो दुख की ईंटों को हटाकर सुख की ईंटें रखनी जरूरी हैं। और वे ईंटें तभी रखी जा सकती हैं जब हम जीवन ....

तन की सेहत बिगाड़ रहा मन!

Posted On April - 27 - 2016 Comments Off on तन की सेहत बिगाड़ रहा मन!
हम बीमार क्यों पड़ते हैं? कोई रोग क्यों लग जाता है? ज्यादातर मामलों में इसका जवाब शरीर से जुड़े किसी कारण में ही तलाशा जाएगा, जैसे- संक्रमण, गलत खानपान, देर रात तक जागना, एक्सरसाइज न करना। लेकिन, ऐसे कई मामले होते हैं, जिनमें लोग शरीर को स्वस्थ रखने के तमाम नियम-कायदे मानते हैं, इसके बावजूद बीमारियां उन्हें घेर लेती हैं। ऐसे मामलों में वजह छिपी ....

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.