शादी समारोह से बच्चे ने चुराया 3 लाख का बैग !    फर्जी अंगूठा लगाकर मनरेगा के खाते से उड़ाये लाखों !    गुरु की तस्वीरों पर प्रकाश अाभा न दिखाने पर एतराज !    हरियाणा में 2006 के बाद के कर्मियों को भी ग्रेच्युटी !    पहले दिया समर्थन, अब झाड़ा पल्ला !    सप्ताह भर में न भरा टैक्स तो टावर होंगे सील !    पेंशन की दरकार, एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन !    परियोजना वर्करों की देशव्यापी हड़ताल कल !    आईएस का हाथ था कानपुर रेल हादसे में !    आज फिर चल पड़ेगी नेताजी की कार !    

राजरंग › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
बड़े काम की ‘छोटी सरकार’

बड़े काम की ‘छोटी सरकार’

देश की नजरें फरवरी में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों पर हैं, लेकिन अगले तीन महीने में 2 और अहम चुनाव हैं। बीएमसी यानी बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन और दिल्ली नगर निगम का। देश की आर्थिक राजधानी, बॉलीवुड सितारों व वीवीआईपीज के नगर मुंबई की बागडोर बीएमसी ही संभालती ...

Read More

फरवरी भारी शिवसेना-भाजपा में दरार

फरवरी भारी शिवसेना-भाजपा में दरार

बीएमसी चुनाव के दौरान इस बार कई वर्षों से गठबंधन करके चुनाव लड़ने वाली पार्टियां अलग-अलग ताल ठोक सकती हैं। भाजपा और शिवसेना गठबधंन में खींचतान चल रही है। उद्धव ठाकरे कई बार गठबंधन तोड़ने की धमकी दे चुके हैं और खासकर बीएमसी चुनाव को लेकर ये पहले ही ऐलान कर ...

Read More

5 राज्य, 5 चुनाव; 5 मुख्यमंत्री  कौन?

5 राज्य, 5 चुनाव; 5 मुख्यमंत्री कौन?

5 राज्य-पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर। चुनाव का बिगुल बज चुका है। सभी दलों की तैयारियां जोरों पर हैं। लगभग एक महीने चलने वाले चुनाव के लिए सभी पार्टियों के उम्मीदवार तय हैं। कुछ ने सूची घोषित कर दी है। कुछ की बाकी है। कहीं बगावत है। कहीं ...

Read More

अपने ही गिराते हैं नशेमन पे बिजलियां

अपने ही गिराते हैं नशेमन पे बिजलियां

मुलायम परिवार में चल रहे ‘दंगल’ को देखकर इतिहास की वह घटना याद आ जाती है जब हुमायूं की मौत के बाद अकबर का राज्यारोहण हुआ था। उस समय अकबर की उम्र 14 साल थी। अकबर को गद्दी पर बैठाकर बैरम खां, जिन्हें अकबर बाबा कहते थे, ने सत्ता अपने ...

Read More

सिद्धू दंपति में से एक ही लड़ेगा चुनाव

सिद्धू दंपति में से एक ही लड़ेगा चुनाव

हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुईं पूर्व सांसद व पूर्व कि्रकेटर नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी और नवजोत सिद्दू में से एक ही विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। हालांकि सिद्धू अभी औपचारिक रूप से कांग्रेस में शामिल नहीं हुए हैं। लेकिन उनकी पत्नी ने ऐलान किया है कि वे चुनाव नहीं ...

Read More

आप में भी सियासी परिवार

आप में भी सियासी परिवार

अभी केजरीवाल ही चेहरा आम आदमी पार्टी ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है। पंजाब में अब तक किसी स्थानीय चेहरे को मुख्यमंत्री के रूप में पेश नहीं किया है। अभी तो अरविंद केजरीवाल ही पार्टी के चेहरा बने हुए हैं। दिल्ली चुनाव की ही रणनीति अपनाते हुए केजरीवाल ने जिस ...

Read More

परिवार और पार्टी

परिवार और पार्टी

पंजाब में चुनावी बिसात बिछ चुकी है। पंजाब के चुनाव का असर देश की सियासत पर भी पड़ना तय है। लगातार चुनावी हार का सामना करती आ रही कांग्रेस को वापसी की उम्मीद पंजाब से ही है। कैप्टन अमरेंद्र सिंह खुद कह चु्के हैं कि उनका यह अंतिम चुनाव होगा। ...

Read More


साड्डी ‘बादल’ सरकार

Posted On June - 4 - 2016 Comments Off on साड्डी ‘बादल’ सरकार
सरबंस दानी गुरु गोबिंद सिंह के लोगों के लिए परिवार कुर्बान कर देने से प्रेरणा लेकर बना अकाली दल लंबे समय तक सत्ता के विकेंद्रीकरण के रूप में काम किया। शुरू में पार्टी का अध्यक्ष, मुख्यमंत्री अलग-अलग नेता होते थे। इससे सत्ता का संतुलन बना रहता था। पंजाब की अकाली सियासत उग्रवाद के दौर के बाद पुराना रास्ता छोड़ गयी। संत हरचंद सिंह लौंगोवाल की हत्या के बाद उनके नजदीकी सुरजीत बरनाला 

यूपी हो या बिहार, ‘घर’ की सरकार

Posted On June - 4 - 2016 Comments Off on यूपी हो या बिहार, ‘घर’ की सरकार
30 जून को होने वाले राज्यसभा चुनाव से पहले लालू परिवार और मुलायम परिवार चर्चा में है। लालू के परिवार से मीसा भारती राज्यसभा के लिए चुनी गयी हैं। अब संसद व विधानसभा में लालू परिवार के 4 सदस्य हो गये हैं। उधर, मुलायम परिवार में अजीत सिंह के साथ चुनावी गठजोड़ को लेकर ‘घमासान’ मचा है। राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजीत सिंह के साथ ....

जल्दबाजी में क्यों हैं हरीश रावत

Posted On May - 28 - 2016 Comments Off on जल्दबाजी में क्यों हैं हरीश रावत
उत्तराखंड गोविंद सिंह उत्तराखंड की राजनीति अब पूरी तरह से चुनाव के मूड में आती दिख रही है। हालांकि अभी चुनाव में दस महीने बचे हैं, लेकिन जिस तरह से मुख्यमंत्री हरीश रावत फैसले और घोषणाएं कर रहे हैं, उससे लगता है कि वे जल्दबाजी में हैं और कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते। पुनः सत्ता संभालते ही मुख्यमंत्री ने पहला काम यह किया कि राज्यपाल के निर्णयों को वापस लेना शुरू कर दिया। यहां 

कई दलों के लिए फाइनल होगा यूपी चुनाव

Posted On May - 28 - 2016 Comments Off on कई दलों के लिए फाइनल होगा यूपी चुनाव
उत्तर प्रदेश बृजेश शुक्ल उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कई दलों के भविष्य का फैसला होगा। यदि भाजपा राज्य में सफल नहीं होती है तो 2019 के लोकसभा चुनाव उसके लिए बहुत कठिन हो जायेंगे। इस बात को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी जानते हैं और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी। यदि बसपा इस बार सत्ता में नहीं आती है तो यह सवाल जरूर पूछे जाने लगेंगे कि भारतीय लोकतांत्रिक इतिहास में सबसे 

दिल्ली का सियासी मूड

Posted On May - 28 - 2016 Comments Off on दिल्ली का सियासी मूड
दिल्ली अजय पांडेय दिल्ली की सियासत के लिहाज से बीते दो-तीन दशक बेहद अहम रहे हैं। एशियाई खेलों के बाद से शहर में अन्य राज्यों से पलायन करके आने वालों की संख्या में भारी इजाफा हुआ। कभी जाट-गुर्जर और पंजाबी समुदाय के हाथों में रही दिल्ली की सत्ता की चाबी एकदम से यूपी और बिहार के लोगों के हाथों में आ गयी। पलायन ने दिल्ली का सियासी मिजाज बदल दिया। शुरुआती दिनों में पूरब से आए लोग 

जाट दंगों की जांच पर भी आंच

Posted On May - 28 - 2016 Comments Off on जाट दंगों की जांच पर भी आंच
हरियाणा उपेंद्र पांडेय पांच जून करीब है। हरियाणा में आरक्षण के मुद्दे पर फिर से जाट आंदोलन की आहट है, सरकार चिंतित है और राज्य में कानून और व्यवस्था के लिए जिम्मेदार पुलिस महानिदेशक मोहम्मद अकील बयान जारी करके चेतावनी दे रहे हैं कि आंदोलन होने की स्थिति में पुलिस की ओर से आंदोलनकारियों को पहले रोका जाएगा, समझाया जाएगा, अगर वे फिर भी नहीं मानते हैं तो पुलिस की ओर से बल प्रयोग 

अब कांग्रेस की उम्मीद पंजाब पर

Posted On May - 21 - 2016 Comments Off on अब कांग्रेस की उम्मीद पंजाब पर
पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार वैसे तो छह महीने पहले ही शुरू हो गया था, लेकिन पांच राज्यों असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी के चुनाव नतीजों के बाद इन पर ज्यादा ध्यान केंद्रित होना स्वाभाविक है। इन चुनाव नतीजों में सब के लिए खुश होने के लिए कुछ न कुछ है, लेकिन कांग्रेस को अपना बचाव करने का तर्क नहीं सूझ रहा ....

सधी रणनीति ने खोला पूर्वाेत्तर का द्वार

Posted On May - 21 - 2016 Comments Off on सधी रणनीति ने खोला पूर्वाेत्तर का द्वार
पूर्वोत्तर का प्रवेशद्वार कहे जाने वाले असम में भाजपा का सत्ता में आना राजनीतिक लिहाज से काफी अहम है। यह पहला मौका है जब केंद्र में राज करने वाली यह पार्टी इलाके के किसी राज्य की सत्ता पर लोकतांत्रिक तरीके से काबिज हुई है। भाजपा की इस कामयाबी के पीछे कुछ हद तक उसकी सही रणनीति का हाथ तो है, लेकिन उसकी कामयाबी में तरुण ....

अम्मा योजनाओं का कमाल

Posted On May - 21 - 2016 Comments Off on अम्मा योजनाओं का कमाल
पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजे आ चुके हैं। इनमें देवियां तो अपना दुर्ग बचा ले गयीं, लेकिन दिग्गज किला फतेह नहीं कर पाये। अम्मा के सिर से ताज उतार कर अपने सिर रखने की करुणानिधि की कोशिश कामयाब नहीं हो पाई। पीडब्ल्यूए व पीएमके के दिग्गज भी नहीं चल पाये। इस फेहरिस्त में विजयकांत, अंबुमनिरामदास व थिरूमावलावन भी शामिल हैं। ....

बंगाल में दीदी ने दिखाई दादागीरी

Posted On May - 21 - 2016 Comments Off on बंगाल में दीदी ने दिखाई दादागीरी
एक कहावत है कि अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता। लेकिन दीदी यानी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने अबकी विधानसभा चुनावों में इस कहावत को गलत साबित कर दिया है। वाममोर्चा और कांग्रेस के बीच गठजोड़, शारदा चिटफंड घोटाले, नारद न्यूज स्टिंग वीडियो और भ्रष्टाचार के तमाम आरोपों के बीच उन्होंने अकेले अपने बूते पहले के मुकाबले ज्यादा सीटें ....

बच्चों की किताबों में राजनीति के पाठ

Posted On May - 14 - 2016 Comments Off on बच्चों की किताबों में राजनीति के पाठ
राजस्थान ईशमधु तलवार राजस्थान के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे अब यह नहीं जान पाएंगे कि देश का पहला प्रधानमंत्री कौन था? पुस्तकों में यह तो पढ़ाया जाएगा कि देश में पंचायती राज की शुरुआत राजस्थान के नागौर शहर से हुई, लेकिन यह नहीं बताया जायेगा कि यह शुरुआत जवाहर लाल नेहरू ने की थी। जवाहर लाल नेहरू का पाठ्यपुस्तकों में कहीं-कहीं उल्लेख तो है, लेकिन इस बात का जिक्र कहीं नहीं 

चुनावी युद्ध के लिए अपने-अपने हथियार

Posted On May - 14 - 2016 Comments Off on चुनावी युद्ध के लिए अपने-अपने हथियार
उत्तर प्रदेश बृजेश शुक्ल उत्तर प्रदेश का अधिकांश हिस्सा सूखे से जूझ रहा है। 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। नेताओं ने राज्य में डेरा जमाना शुरू कर दिया है। सूखा चुनावी रणनीति का एक हथियार बन चुका है। यह साबित करने की होड़ है कि सूखे से लड़ने में कौन सक्षम है और कौन अक्षम है। विकास की धारा किसकी सरकार में बही। युद्ध यहां तक जा पहुंचा कि केंद्र सरकार 

उत्तराखंड संकट के सबक

Posted On May - 14 - 2016 Comments Off on उत्तराखंड संकट के सबक
उत्तराखंड गोविन्द सिंह   उत्तराखंड में चल रहे 55 दिन पुराने राजनीतिक संकट का पटाक्षेप हो गया है। हरीश रावत को उनकी छिनी हुई गद्दी पुनः मिल गई है। अब वे अगले छह महीने तक निर्बाध रूप से शासन चला पायेंगे। उन्हें बार-बार चिकोटी काट रहे नौ बागियों की सदस्यता ख़त्म हो गयी है। इस तरह उनके रास्ते के कांटे खुद-ब-खुद दूर हो गये। कहा जा रहा है कि उन्होंने एक वार से कई निशाने साध लिए। उत्तराखंड 

बोतल एक तमाशे तीन

Posted On May - 14 - 2016 Comments Off on बोतल एक तमाशे तीन
तमिलनाडु विनय ठाकुर कल दक्षिण के तीन राज्यों केरल तमिलनाडू व पुडुचेरी (संघ  शासित प्रदेश) में अंतिम चरण का मतदान है। शराब पर तीनों ही जगह अलग-अलग सियासत हो रही है। केरल में शराब ओमनचंडी सरकार के लिए चुनावी वैतरनी को पार कराने जैसी लग रही है तो तमिलनाडु में यह ड़ूबते को तिनके का सहारा जैसी है। पुडुचेरी में शराब बंदी कोई मुद्दा नहीं है। इसे लेकर नेता न उधो को लेना ना माधो के देना वाली 

नेता जी! ऐसे कैसे हटेगा प्रदूषण

Posted On May - 7 - 2016 Comments Off on नेता जी! ऐसे कैसे हटेगा प्रदूषण
हवा की रफ्तार को रोकने के लिए कोई उपाय नहीं है। धुआं यदि फरीदाबाद में उठेगा तो उसका असर दिल्ली तक जरूर महसूस किया जायेगा और यदि गाजियाबाद की फैक्टि्रयों से प्रदूषण निकलेगा तो दिल्ली की हवा में इसका जहर घुलेगा। ऐसे में क्या सिर्फ दिल्ली में ऑड-ईवन योजना या ऐसे ही छोटे-मोटे उपायों भर से राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण को कम किया जा ....

तमिलनाडु की जंग में राम राह पर अम्मा

Posted On April - 30 - 2016 Comments Off on तमिलनाडु की जंग में राम राह पर अम्मा
विनय ठाकुर तमिलनाडु इस बार तमिलनाडु के चुनावों में मुकाबला तीखा और रोचक है। जोर-आजमाइश ककरने वाले  नेताओं ककी जमात में वायको, स्टालिन, अंबुमनी रामदास, विजयककांत जैसे नेता मैदान में हैं। एकक तरफ शब्दों के धनी द्रमुकक प्रमुख एम ककरुणानिधि हैं तो दूसरी  ओर धुन ककी धनी  जयललिता हैं। जो शेर कको मांद में जाककर चुनौती देने में विश्वास रखती हैं। डीएमके राज में जब बाहुबली ककरुणानिधि 
Page 6 of 19« First...234567891011...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.