एकदा !    सबरीमाला मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी !    सपा प्रत्याशी ने लिया नाम वापस !    सुप्रीम कोर्ट की शरण में प्रजापति गिरफ्तारी पर रोक की अर्जी !    गुजरात के तो गधों का भी होता है प्रचार !    दलित की बेटी हेलीकॉप्टर में घूमे, मोदी को अच्छा नहीं लगता !    बहुजन से बहनजी तक सिमटी बसपा : मोदी !    दहेज लोभी को नकारा, इंजीनियर से रचायी शादी !    गैंगस्टर के 4 अौर समर्थक गिरफ्तार !    मेट्रो महिला ने किया आत्महत्या का प्रयास !    

लहरें › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
रोचक

रोचक

विटामिन 'ए' जरूर लें कार्तिक यूं तो गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक भोजन दिये जाने की सख्त जरूरत होती है। लेकिन अब डॉक्टरों से सलाह लेकर आपको उन्हें भरपूर विटामिन 'ए' भी देना होगा। ताजा शोध में यह सामने आया है कि गर्भावस्था के दौरान मां द्वारा पर्याप्त विटामिन 'ए' नहीं लेने से ...

Read More

समुद्र चले संग-संग

समुद्र चले संग-संग

यात्रा-वृत्तांत/महाबलीपुरम केवल तिवारी इस सफर पर समुद्र की बात होती है। इस सफर पर समुद्र का ही साथ होता है। कोई इसे मंदिरों का शहर कहता है और कोई रिसाेर्ट्स का। कहे कोई कुछ भी, लेकिन यह जगह है बहुत अनूठी। जब आप यहां के सफर पर होते हैं तो लगता है ...

Read More

नन्हे का कमरा

नन्हे का कमरा

फीचर टीम उम्र में छोटे, कहने को नन्हे-मुन्ने, मगर घर का सबसे अहम सदस्य होते हैं हमारे बच्चे। इसलिए तो कहते हैं कि उनके कमरे को सजाना बच्चों का खेल नहीं। बड़ी-बड़ी जुगत भिड़ानी पड़ती है। कभी उनके आराम का ध्यान, कभी पसंद का, कभी लेटेस्ट ट्रेंड्स पर निगाह तो कभी ...

Read More

लुटाएं तहज़ीब का खज़ाना

लुटाएं तहज़ीब का खज़ाना

फीचर टीम हम कितने तमीज़दार या तहज़ीब के रखवाले हैं, इसका सच्चा खुलासा उस घड़ी होता है, जब हमारे सामने बैठा व्यक्ति कुछ-कुछ अशोभनीय आचरण करता है। हमारे में से बहुत सारे लोग सामने वाले की बदत्तमीजी को नज़रअंदाज़ करने को ही सही मानते हैं। दरअसल कई बार सबकुछ इतना जल्दी ...

Read More

चख ले  झारखंडी चोखा

चख ले झारखंडी चोखा

शैलेष कुमार झारखंड आैर बिहार में कई समानताएं हैं, जाहिर है खान-पान में भी हैं। बावजूद इसके झारखंड के खान-पान में कई ऐसी विशेषताएं हैं, जो इसे बिहार से अलग करती हैं। झारखंड के बारे में लोगों की यह भी सोच है कि यहां कुछ भी जायकेदार नहीं है, जबकि सच्चाई ...

Read More

साइबर अड्डे

साइबर अड्डे

अलका कौशिक छत्तीसगढ़ में महानदी के किनारे खुदाई ने सिरपुर की शक्ल में एक ऐसे शहर को उगला था, जिसमें कुएं की जगत के करीब ही ज़मीन पर स्टापू जैसे किसी खेल की लकीरें आज भी अपनी हस्ती को संभाले हुए हैं। पुरातत्वेत्ताओं का अनुमान है कि गांव-देहात की औरतें जब ...

Read More

सरकारी तंत्र में 'अनफिट' ईमानदार दारोगा

सरकारी तंत्र में 'अनफिट' ईमानदार दारोगा

नमक का दारोगा मुंशी प्रेमचंद मुंशी प्रेमचंद की कहानियां हर देश-काल-परिस्थिति पर फिट बैठती हैं। उनकी लिखी कहानी है 'नमक का दारोगा', जो आज के दौर में भी उतनी ही सटीक बैठती है, जितना अपने रचे जाने के समय में। इस कहानी के मुख्य पात्र हैं मुंशी वंशीधर। कहानी सरकारी तंत्र ...

Read More


  • साइबर अड्डे
     Posted On February - 19 - 2017
    छत्तीसगढ़ में महानदी के किनारे खुदाई ने सिरपुर की शक्ल में एक ऐसे शहर को उगला था, जिसमें कुएं की....
  • सरकारी तंत्र में ‘अनफिट’ ईमानदार दारोगा
     Posted On February - 19 - 2017
    मुंशी प्रेमचंद की कहानियां हर देश-काल-परिस्थिति पर फिट बैठती हैं। उनकी लिखी कहानी है 'नमक का दारोगा', जो आज के....
  • लुटाएं तहज़ीब का खज़ाना
     Posted On February - 19 - 2017
    हम कितने तमीज़दार या तहज़ीब के रखवाले हैं, इसका सच्चा खुलासा उस घड़ी होता है, जब हमारे सामने बैठा व्यक्ति....
  • समुद्र चले संग-संग
     Posted On February - 19 - 2017
    इस सफर पर समुद्र की बात होती है। इस सफर पर समुद्र का ही साथ होता है। कोई इसे मंदिरों....

दरभंगा घराने का चिराग

Posted On January - 29 - 2017 Comments Off on दरभंगा घराने का चिराग
दरभंगा घराने की विशिष्टताओं से शायद ही कोई संगीत प्रेमी अनभिज्ञ होगा। गायिकी की एक विशिष्ट शैली ध्रुपद के लिए मशहूर इस घराने का एक जाना-पहचाना नाम है पंडित प्रेम कुमार मल्लिक। ....

बापू का गुस्से से तमतमाना

Posted On January - 28 - 2017 Comments Off on बापू का गुस्से से तमतमाना
गांधी जी ने स्वीकार किया - नहीं, भगवान की प्रेरणा को समझने में भी कभी गलती हो सकती है और उस गलती को संभाला भी जा सकता है। मनुष्य भगवान की प्रेरणा को अपनी बुद्धि के अनुसार समझता है। ....

कम्युनिस्टों से खफा-खफा बापू

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on कम्युनिस्टों से खफा-खफा बापू
देशपांडे ने फिर प्रश्न किया - भगवान पर विश्वास करने का उपदेश आप शक्ति और साहस प्राप्त करने के लिए देते हैं, परंतु जो लोग किसी दूसरी शक्ति से साहस प्राप्त करने की आवश्यकता न समझ कर स्वयं अपने ऊपर भरोसा करते हैं, उन्हें आप क्यों विश्वास के अयोग्य ठहरा देते हैं? जो व्यक्ति किसी दूसरी शक्ति के भरोसे की आवश्यकता न समझ कर आत्मनिर्भर ....

कोजी कोजी ठंड

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on कोजी कोजी ठंड
ठंड में गर्माहट का अहसास ही आधी ठंड भगा डालता है। इस अहसास को घर की डेकोरेशन में डालकर तो देखें, कोजी माहौल का नज़ारा चहुंओर पाएंगे। ज्यादा कुछ नहीं करना है। कोजी फील वाली चंद चीजों का सहारा लेना है और उन्हें कायदे से यहां-वहां रखना है। ....

उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल
सियासत को लेकर कहा जाता है कि ये भाई-भाई, बाप-बेटे में रिश्ते खराब करा देती है। इतिहास खंगाले तो बात सौ फीसदी समझ आने लगती है। मुगल शासकों में सियासत या गद्दी को लेकर खून-खराबे हुए। आज के दौर में भी सियासी मतभेद रिश्तों में तनाव पैदा करते हैं। ....

डाकिया थनप्पा खुशी बांचता गम छिपाता

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on डाकिया थनप्पा खुशी बांचता गम छिपाता
जाने-माने साहित्यकार आरके नारायण की महान कृति ‘मालगुडी डेज’ के उन एपिसोड को याद कीजिये जो दूरदर्शन पर लंबे समय तक चले। ....

मैं हूं मीरा

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on मैं हूं मीरा
कृष्ण के प्रति मीरा की भक्ति और आसक्ति अटूट थी। मीरा के रोम-रोम में कृष्ण का वास था। ....

स्ट्रीट फूड बनारस का

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on स्ट्रीट फूड बनारस का
बनारसी कपड़ों की धूम अब न केवल अपने देश में हो रही है, बल्कि विदेशों में बनारसी कपड़ों से बने ड्रेसेज रैम्प पर दिखने लगे हैं। इस शहर का ठेठ बनारसीपन लोगों को इतना लुभा रहा है कि गंगा मैया की अद्भुत आरती देखने के अलावा भी लोगों की रुचि बनारस में जगने लगी है। ....

रोशनी से नहाया नगर

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on रोशनी से नहाया नगर
मलेशिया की केपिटल कुआलालम्पुर पर उतरते ही एयरपोर्ट की भव्यता दंग करती है। अपने देश से दस साल बाद अगस्त 1957 को मलेशिया ब्रिटिश राज से आजाद हुआ, लेकिन वहां तरक्की की रफ्तार कहीं अधिक है। समूचे मलेशिया में बिजली और पानी की कोई कमी नहीं है। कुआलालम्पुर की इमारतें, सड़कें और पेड़ तक लाइटों से जगमग करते हैं। इसलिए यह ‘रोशनी का शहर’ कहलाता ....

बुजुर्गों को कभी अकेला न छोड़ें

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on बुजुर्गों को कभी अकेला न छोड़ें
क्या आपके घर में बुजुर्ग हैं? क्या आप उन्हें अकेले रहने देते हैं? घर के कामों में शामिल नहीं करते? बातचीत में शामिल नहीं करते? यदि इन सब सवालों का जवाब हां है तो ज़रा नये शोध के नतीजे पर ध्यान दीजिये। ....

कभी नरम-नरम कभी सख्त

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on कभी नरम-नरम कभी सख्त
रहस्यों से पर्दा उठाने में हमेशा जुटे रहने वाले वैज्ञानिकों ने अब एक ऐसा पदार्थ बनाने का दावा किया है जो सबसे हल्का और कठोर है। इस संबंध में किये गये अनुसंधान को वैज्ञानिक जर्नल ‘साइंस एडवांसेज’ में प्रकाशित किया गया है। ....

साख पर आंच

Posted On January - 22 - 2017 Comments Off on साख पर आंच
भ्रष्टाचार, आतंकवाद और नक्सलवाद जैसी गंभीर समस्याओं से निबटने के लिये देश में मौजूद काला धन जड़ से खत्म करने के इरादे से पांच सौ और एक हजार रूपए की मुद्रा को अमान्य घोषित करने की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की घोषणा का जनता ने पुरजोर स्वागत किया था। ....

बड़ा दिन अमेरिका का

Posted On January - 15 - 2017 Comments Off on बड़ा दिन अमेरिका का
सर्द हवाओं के बीच समृद्ध परंपराओं और लोकतंत्र के प्रति अटूट निष्ठा की गरमाहट। चारों ओर जश्न का माहौल। फिज़ा में देशभक्ति और धार्मिक गीतों की स्वर लहरियों, बैंडबाजों के धुनों की अनुगूंज। ....

कहां जाए बंटी?

Posted On January - 15 - 2017 Comments Off on कहां जाए बंटी?
विख्यात लेखिका मन्नू भंडारी का उपन्यास ‘आपका बंटी’ 1979 में पहली बार छप कर आया था। लेकिन इतने समय बाद भी जब इसे पढ़ा जाता है तो सभी किरदार आज के लगते हैं। एकल परिवारों में जब बच्चे आंखें खोलते हैं तो उनके सामने माता-पिता ही एक मात्र चेहरे होते हैं, और जब उनके बीच भी दरार पैदा हो जाए तो वे कहां जाएं। ....

मूड बदलेगी जाड़ों की धूप

Posted On January - 15 - 2017 Comments Off on मूड बदलेगी जाड़ों की धूप
क्या आपका मूड उखड़ा-उखड़ा सा रहता है? कहीं ऐसा तो नहीं कि आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो रही हो। विशेषज्ञों का कहना है कि विटामिन डी की कमी से कई विकार हमारे शरीर में पनपने लगते हैं। ....

पत्नी चाहे इमोशनल पति

Posted On January - 15 - 2017 Comments Off on पत्नी चाहे इमोशनल पति
पुरुषों के बीच बातचीत में अक्सर सुना जाता है, ‘मैं परवाह नहीं करता।’ लेकिन एक शोध में यह बात सामने आयी है कि अगर वाकई आप परिवार में भी ऐसा ही रूखा बर्ताव रखते हैं तो आपका वैवाहिक जीवन सुखी नहीं रह सकता। ....
Page 3 of 22812345678910...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.