असल जिंदगी का रूप है सिनेमा : अख्तर !    नहीं रहे प्रसिद्ध उर्दू गीतकार लायलपुरी !    पूर्व सीबीआई प्रमुख की रिपोर्ट पर फैसला आज !    अकाली दल के कई नेता कांग्रेस में शामिल !    2 गोल्ड जीतकर लौटी फरीदाबाद की बेटी !    जेसी कालेज की लड़कियों ने मारी बाजी !    भारत का प्रतिनिधित्व करेगा दिवेश !    तेरिया ने जीता 'झलक दिखला जा' का खिताब !    पाक में मामले की सुनवाई 25 को !    विशेष अतिथि होंगे 40 आदिवासी !    

लहरें › ›

फ़ीचर्ड न्यूज़
रोशनी  से नहाया  नगर

रोशनी से नहाया नगर

अमिताभ स. मलेशिया की केपिटल कुआलालम्पुर पर उतरते ही एयरपोर्ट की भव्यता दंग करती है। अपने देश से दस साल बाद अगस्त 1957 को मलेशिया ब्रिटिश राज से आजाद हुआ, लेकिन वहां तरक्की की रफ्तार कहीं अधिक है। समूचे मलेशिया में बिजली और पानी की कोई कमी नहीं है। कुआलालम्पुर की ...

Read More

बुजुर्गों को कभी अकेला न छोड़ें

बुजुर्गों को कभी अकेला न छोड़ें

कार्तिक क्या आपके घर में बुजुर्ग हैं? क्या आप उन्हें अकेले रहने देते हैं? घर के कामों में शामिल नहीं करते? बातचीत में शामिल नहीं करते? यदि इन सब सवालों का जवाब हां है तो ज़रा नये शोध के नतीजे पर ध्यान दीजिये। एक शोध में यह बात सामने आयी है ...

Read More

साख पर आंच

साख पर आंच

अनूप भटनागर भ्रष्टाचार, आतंकवाद और नक्सलवाद जैसी गंभीर समस्याओं से निबटने के लिये देश में मौजूद काला धन जड़ से खत्म करने के इरादे से पांच सौ और एक हजार रूपए की मुद्रा को अमान्य घोषित करने की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की घोषणा का जनता ने पुरजोर स्वागत किया था। परंतु ...

Read More

उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल

उलट सियासी विचार वाले साथी संग दो पल

फीचर टीम सियासत को लेकर कहा जाता है कि ये भाई-भाई, बाप-बेटे में रिश्ते खराब करा देती है। इतिहास खंगाले तो बात सौ फीसदी समझ आने लगती है। मुगल शासकों में सियासत या गद्दी को लेकर खून-खराबे हुए। आज के दौर में भी सियासी मतभेद रिश्तों में तनाव पैदा करते हैं। ...

Read More

स्ट्रीट फूड बनारस का

स्ट्रीट फूड बनारस का

स्वाद शैलेष कुमार बनारसी कपड़ों की धूम अब न केवल अपने देश में हो रही है, बल्कि विदेशों में बनारसी कपड़ों से बने ड्रेसेज रैम्प पर दिखने लगे हैं। इस शहर का ठेठ बनारसीपन लोगों को इतना लुभा रहा है कि गंगा मैया की अद्भुत आरती देखने के अलावा भी लोगों की ...

Read More

कोजी कोजी ठंड

कोजी कोजी ठंड

इंटीरियर फीचर टीम ठंड में गर्माहट का अहसास ही आधी ठंड भगा डालता है। इस अहसास को घर की डेकोरेशन में डालकर तो देखें, कोजी माहौल का नज़ारा चहुंओर पाएंगे। ज्यादा कुछ नहीं करना है। कोजी फील वाली चंद चीजों का सहारा लेना है और उन्हें कायदे से यहां-वहां रखना है। ठंड ...

Read More

मैं हूं   मीरा

मैं हूं मीरा

श्वेता रंजन कृष्ण के प्रति मीरा की भक्ति और आसक्ति अटूट थी। मीरा के रोम-रोम में कृष्ण का वास था। महलों में पली-बढ़ी, एक सुहागन मीरा ने आज से 500-600 वर्ष पहले कृष्ण की भक्ति के कारण ही सम्पूर्ण जगत के विरोध का सामना किया था। कृष्ण की भक्ति और अनुरक्ति ...

Read More


  • साख पर आंच
     Posted On January - 22 - 2017
    भ्रष्टाचार, आतंकवाद और नक्सलवाद जैसी गंभीर समस्याओं से निबटने के लिये देश में मौजूद काला धन जड़ से खत्म करने....
  • रोशनी  से नहाया  नगर
     Posted On January - 22 - 2017
    मलेशिया की केपिटल कुआलालम्पुर पर उतरते ही एयरपोर्ट की भव्यता दंग करती है। अपने देश से दस साल बाद अगस्त....
  • डाकिया थनप्पा खुशी बांचता गम छिपाता
     Posted On January - 22 - 2017
    जाने-माने साहित्यकार आरके नारायण की महान कृति ‘मालगुडी डेज’ के उन एपिसोड को याद कीजिये जो दूरदर्शन पर लंबे समय....
  • कोजी कोजी ठंड
     Posted On January - 22 - 2017
    ठंड में गर्माहट का अहसास ही आधी ठंड भगा डालता है। इस अहसास को घर की डेकोरेशन में डालकर तो....

सात से 22 हुए हम

Posted On November - 6 - 2016 Comments Off on सात से 22 हुए हम
हरियाणा के नक्शे पर दादरी के रूप में हाल ही में एक और जिला दर्ज हो गया है। राज्य को यह मनोहर सौगात सीएम खट्टर की ओर से है। अपने जन्म के बाद से (1 नवंबर 1966) सात जिलों से शुरुआत करने वाला म्हारा हरियाणा अब तक 22 जिलों में बंट चुका है। ....

रोशन-रोशन दिवाली

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on रोशन-रोशन दिवाली
दीपावली का मतलब ही होता है दीपों की पंक्ति। ऐसे में भला इस खास दिन दीयों को कैसे भूला जा सकता है। पहले जहां दीए केवल मिट्टी के परंपरागत रूप में ही मिलते थे, वहीं अब डिजाइनर दीए ट्रेंड में हैं। ....

सबसे सुंदर भगवान का घर

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on सबसे सुंदर भगवान का घर
पूजा रूम कैसा हो? वहां भगवान की मूर्तियां कहां स्थापित करनी चाहिए? मूर्तियां रखनी भी चाहिए या नहीं? या केवल तस्वीरें ही रखनी चाहिए? किस दिशा की ओर मुख करके भगवान की स्थापना करनी चाहिए? किस दिशा में पूजा करना अच्छा रहता है? ....

दमदार सजावट घर गुलज़ार

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on दमदार सजावट घर गुलज़ार
दिवाली दिल वालों की। इस पर्व को अनेकानेक चीजों के साथ-साथ खास बनाता है हमारा उल्लास और उत्साह। इस दिवाली आप भी करें अपने घर की कुछ खास तैयारी ताकि जब रिश्तेदार या मेहमान आप के घर आएं तो साजसज्जा व तैयारियों को देख कर तारीफ करते न थकें। ....

लोक,लीक बिन कैसी लक्ष्मी

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on लोक,लीक बिन कैसी लक्ष्मी
कुछ दशक पहले की दिवाली की बात करें तो झोंपड़ियों से लेेकर अट्टालिकाओं तक कुम्हारों के बनाए दीये मुस्कुराते थे। हमारी माटी से जुड़े ये दीये ज्ञान, ध्यान, जीवन ज्योति, सिद्धि का प्रतीक कहलाते थे। अब चाइनीज लाइटों की चकाचौंध से चुंधियाई रहती है दिवाली। पहले इस पर्व में लोक-लक्ष्मी का पूजन होता था। ....

बतियाते पर्दे

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on बतियाते पर्दे
घर में पर्दे बनाना आसान नहीं है। पहले आप कपड़ा खरीदेंगे। फिर उसकी नाप लेंगे। तब आप अपने पर्दे बना पाएंगे। यह सब कितना थका देने वाला है। तो चलिए इसे थोड़ा आसान बनाते हैं और आपको सस्ते कपड़े के पर्दे कैसे बनेंगे, वह बताते हैं। ....

पूजा की थाली

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on पूजा की थाली
आपने घर को सजा लिया, तरह-तरह के व्यंजन भी बना लिए। कुल मिलाकर दिवाली की सारी तैयारी हो चुकी है। लेकिन क्या आपने पूजा की थाली को सजाने के बारे में कभी सोचा है? अमूमन शादी-ब्याह के मौकों पर लोग पूजा थाली को सजाते हैं। ....

रंग बिरंगी रंगोली

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on रंग बिरंगी रंगोली
-शैलेष दिवाली के शुभ अवसर पर हमारे यहां रंगोली बनाना अनिवार्य है। इस शुभ अवसर पर रंगोली का निर्माण हमारे जीवन में पवित्रता के साथ ही सकारात्मक ऊर्जा का संचार भी करता है। कई रंग, ग्लिटर, पत्ते और फूलों की मदद से घर के मुख्य द्वार पर बनाई गई रंगोली सबका मन सहज ही मोह लेती है। कुछ लोग रंगे चावल, दाल, मसालों की मदद से भी रंगोली के डिजाइन्स बनाते हैं। दक्षिण भारत में हर सुबह दरवाजे पर रंगोली 

परदेस में दिवाली इंडिया वाली

Posted On October - 30 - 2016 Comments Off on परदेस में दिवाली इंडिया वाली
हम इंडिया वाले दुनिया के किसी भी कोने में रहें, कहीं भी बसर करें, अपनी जड़ों से जुड़ने का कोई मौका छोड़ते नहीं। दिवाली भी ऐसा ही पर्व है। इस पर्व पर विदेशों में रहने वाले इंडियंस अपने गांव-शहरों की रोशन दिवाली को आंसुओं से झिलमिलायी आंखों से याद भी करते हैं। ....

टेकप्रूफ रिश्ते

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on टेकप्रूफ रिश्ते
दुनिया में जब से 'झगड़ा' शब्द का इजाद हुआ है, सबसे मशहूर मियां-बीवी के झगड़े ही हुए हैं। किस्सों में, कहानियों में, जोक्स में। खैर...। जहां प्यार है, वहां तकरार भी है। दरअसल दोनों को अपना प्यार बनाए रखने के लिए हर समय नयी-नयी चुनौतियों से जूझना पड़ता है। ....

पंचायती कुएं से पानी लेने का हक भी नहीं

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on पंचायती कुएं से पानी लेने का हक भी नहीं
'द्रौपदी', 'बीज' और 'शिकार' कहानियों में आदिवासियों में प्रतिरोध की चेतना जाग्रत होती दिखाई पड़ती है। आदिवासी अब लड़ाई के मैदान में उतर गए हैं। 'द्रौपदी' में वह प्रतिरोध संगठित आंदोलन का रूप लेता है। महाश्वेता ने अपने कहानी संग्रह 'भारतवर्ष तथा अन्य कहानियां' में घुमंतू मानी जानेवाली जनजातियों की लड़ाई जीतने की जंग दर्ज की है। ....

मराठी जायके की छौंक

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on मराठी जायके की छौंक
दीवाली को बंगाल में काली पूजा के नाम से लोग जानते हैं। बंगालियों की काली पूजा इतनी प्रसिद्ध हो गई कि बंगाली जहां भी गए, वहां उन्होंने काली पूजा करना नहीं छोड़ा। ....

गंगा का वो मीठा पानी

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on गंगा का वो मीठा पानी
मशहूर शायर बशीर बद्र साहब ने ये पंक्तियां ठुकराने-अपनाने और पहचानने, भूल जाने की कशमकश को लेकर लिखी हैं, लेकिन घुमक्कड़ी स्वभाव के व्यक्ति के लिए भी निश्चित तौर पर ये सटीक बैठती हैं कि जब आप कहीं निकलते हैं तो वहां की सभ्यता, संस्कृति और खान-पान के बारे में जानने के लिए आपको वहां के लोगों के साथ अपनेपन का रिश्ता बनाना पड़ता है। ....

हिमानी दीवानी थिएटर की

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on हिमानी दीवानी थिएटर की
श्वेता रंजन देहरादून के दून स्कूल से पढ़ाई करने वाली हिमानी का खिंचाव अभिनय की ओर बचपन से ही था। हिमानी स्कूली दिनों से ही अभिनय की दीवानी थीं और लोग उनकी अभिनय प्रतिभा के कायल भी थे। उनकी खूबसूरती और थियेटर की ओर उनके लगाव को देखते हुए स्कूल के शिक्षक भी उन्हें हर वक्त प्रोत्साहित किया करते थे। स्टेज पर हिमानी बेहद खूबसूरती से अपने रोल निभाया करती थीं। वह बताती हैं : उन दिनों 

फ्रेंडली माडर्न किचन

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on फ्रेंडली माडर्न किचन
रसोईघर आपके घर का वह अहम हिस्सा है, जिसमें आप अपना बहुत महत्वपूर्ण समय बिताते हैं। अपने प्यारे से परिवार को खुश करने के लिए उनकी मनपसंद डिशेज बनाते हैं। यानी जब आप रसोई में होते हैं ताे कुछ न कुछ सृजनात्मक कर रहे होते हैं। तो क्या यह जरूरी नहीं कि रसोई घर की बनावट और डिजाइन ऐसा हो कि आपकी सृजनात्मकता पर सकारात्मक ....

कम नींद से हवा होती याददाश्त

Posted On October - 23 - 2016 Comments Off on कम नींद से हवा होती याददाश्त
क्या कभी ऐसा होता है कि किसी जानकार की तसवीर देखकर आप तुरंत उसे नहीं पहचान पाते। क्या ऐसा भी हुआ है कि कई दिनों बाद मिले किसी शख्स का नाम आप तुरंत नहीं ले पाये। ....
Page 8 of 225« First...45678910111213...Last »

समाचार में हाल लोकप्रिय

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.